मिया खलीफा ने किया किसान आंदोलन का समर्थन, कही यह बात
मिया खलीफा ने किया किसान आंदोलन का समर्थन, कही यह बातSocial Media

मिया खलीफा ने किया किसान आंदोलन का समर्थन, कही यह बात

पॉप स्टार रिहाना के बाद अब पॉर्न स्टार मिया खलीफा ने हाल ही में अपने सोशल मीडिया के जरिए देश में चल रहे किसान आंदोलन को लेकर ट्वीट किया है। उनका ट्वीट वायरल हो रहा है।

राज एक्सप्रेस। कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली के सिंघु, टीकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों का विरोध प्रदर्शन आज 70वें दिन में प्रवेश कर गया है। किसी भी तरह की हिंसा और आंदोलनों को फैलने से रोकने के ख्याल से पुलिस ने प्रदर्शन स्थलों को किले में तब्दील कर दिया है। किसान आंदोलन को लेकर बहस का मामला सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक फैल चुका है। कई बड़े स्टार्स इस मामले पर अपनी राय दे चुके हैं। किसान आंदोलन को लेकर रिहाना और ग्रेटा थनबर्ग के बाद अब पूर्व पोर्न स्टार मिया खलीफा ने भी ट्वीट किया है।

मिया खलीफा ने किया ट्वीट:

मिया खलीफा ने ट्वीट करते हुए लिखा, "कौन-सा मानवाधिकार उल्लंघन हो रहा है? उन्होंने नई दिल्ली के आस-पास इंटरनेट काट दिया?' खलीफा ने आगे लिखा कि मुझे उम्मीद है कि, ऑवार्ड सेशन में उनकी अनदेखी नहीं की जायेगी, मैं किसानों के साथ खड़ी हूं।"

मिया खलीफा का ट्वीट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। मिया खलीफा ने दो ट्वीट किए हैं। उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा है, ''पेड एक्टर्स...मुझे उम्मीद है कि, पुरस्कारों के मौसम में उनकी अनदेखी कतई नहीं की जाएगी। मैं किसानों के साथ हूं...#FarmersProtest"

कंगना रनौत ने भी किया ट्वीट:

कंगना रनौत सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं। वह लगातार किसान आंदोलन को लेकर प्रतिक्रिया देती रहती हैं। कंगना ने सोशल मीडिया पर मिया खलीफा का नाम लिए बिना उनकी और उदारवादी लोगों की आलोचना की है। कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा, "लिब्रु जो हमारे आंतरिक मुद्दों के बारे में राय देने वाले इन अमेरिकी पेड एडल्ट सितारों के लिए उत्साहित हो रहे हैं, अच्छी तरह से 99 प्रतिशत भारतीय अमेरिकी जीवन की परवाह नहीं करते है, या उसका सम्मान नहीं करते हैं, जो सबसे अधिक अछूता, धन दिमाग और आत्म केंद्रित समाजों में से एक है। इसलिए मूर्खों को शांत करो।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co