सुशांत सिंह केस: AIIMS के डॉक्टर सुधीर गुप्ता का ऑडियो हुआ लीक

सुशांत सिंह राजपूत केस में नया मोड़ सामने आया है। हाल ही में डॉ. सुधीर गुप्ता का एक ऑडियो टेप लीक हो गया है, जिसमें वह यह मान रहे हैं कि, सुशांत की हत्या हुई थी।
सुशांत सिंह केस: AIIMS के डॉक्टर सुधीर गुप्ता का ऑडियो हुआ लीक
सुशांत सिंह केस: AIIMS के डॉक्टर सुधीर गुप्ता का ऑडियो हुआ लीकSocial Media

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को चार महीने का समय होने वाला है, लेकिन अभी तक उनकी मौत को लेकर कुछ साफ नहीं हो पाया है। सीबीआई सुशांत की मौत की जांच कर रही है। इसी बीच एम्स के फॉरेंसिक पैनल ने हाल ही में अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि, सुशांत की हत्या नहीं हुई थी, बल्कि उन्होंने फांसी लगाकर आत्महत्या की थी। अब इस मामले में एक नया मोड़ सामने आया है। हाल ही में डॉ. सुधीर गुप्ता का एक ऑडियो टेप लीक हो गया है, जिसमें वह यह मान रहे हैं कि, सुशांत की हत्या हुई थी। यह ऑडियो टेप तब का है जब उन्होंने सुशांत की फोटो देखी थी। हालांकि फॉरेंसिक जांच में उन्होंने इसे सुसाइड करार दिया है।

ऑडियो टेप आया सामने:

टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, इस ऑडियो टेप में डॉक्टर गुप्ता का कहना है कि, जब सबसे पहले तस्वीरें उनके पास आई थीं उन्हें देखकर ऐसा लगता है कि, सुशांत का मर्डर हुआ था। हालांकि बाद में एम्स के फारेंसिक पैनल की रिपोर्ट में कहा गया है कि, सुशांत की मौत फांसी लगाकर आत्महत्या करने के कारण हुई। एम्स की इस रिपोर्ट से सुशांत की फैमिली भी संतुष्ट नहीं थी।

बता दें कि, AIIMS की इस रिपोर्ट से सुशांत की फैमिली और फैंस भी संतुष्ट नहीं थी। जबकि सुशांत सिंह राजपूत की फैमिली के वकील विकास सिंह पहले ही कह चुके हैं कि, वह एम्स के पैनल की रिपोर्ट से संतुष्ट नहीं हैं। कूपर हॉस्पिटल की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पर पहले ही शक जताया जा चुका है, जिसमें मौत का समय भी नहीं बताया गया है।

एम्स के फरेंसिक हेड डॉक्टर सुधीर गुप्ता ने बताया, "हमने अपनी फाइनल रिपोर्ट तैयार कर ली है। यह पूरी तरह से फांसी लगाए जाने और आत्महत्या का मामला है। उन्होंने अपने बयान में आगे कहा, "सुशांत की बॉडी पर फांसी के अलावा कोई अन्य चोट के निशान नहीं थे। मृतक की बॉडी या कपड़ों पर भी कोई संघर्ष/हाथापाई के निशान भी नहीं पाए गए हैं।"

इतना ही नहीं खबर के अनुसार, सुशांत सिंह की बॉडी में मुंबई फरेंसिक साइंस लैब या एम्स की टॉक्सिकोलोजी लैब को कोई भी जहरीला या नशीला पदार्थ नहीं मिला है। गर्दन पर मिला पूरा निशान फांसी लगाने के कारण बना है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co