सिंगर नहीं होती तो कुक बनतीं आशा भोसले, आवाज़ के साथ ही हाथों में भी है जादू

अपनी जिंदगी को हमेशा से खुद की शर्तों पर जीने वाली आशा भोसले जब गाती हैं तो समां बंध जाता है। उनकी आवाज़ का जादू ही है कि वे 18 बार फिल्मफेयर अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट हुईं और 7 बार इसको अपने नाम किया है।
आशा भोसले बर्थडे
आशा भोसले बर्थडेSyed Dabeer Hussain - RE

राज एक्सप्रेस। बॉलीवुड की जानी-मानी सिंगर आशा भोसले अपनी मधुर आवाज़ से अपनी एक अलग ही पहचान बना चुकी हैं। उनका जन्म आज ही के दिन यानि 8 सितंबर 1933 में सांगली में हुआ था। बचपन से ही जिंदगी को अपने अनुसार जीने वाली आशा भोसले जब अपनी आवाज़ का जादू बिखेरती हैं तो सभी मंत्रमुग्ध हो जाते हैं। यही कारण है कि वे 7 बार फिल्मफेयर अवॉर्ड और फिल्मफेयर लाइफटाइम अवॉर्ड को जीत चुकी हैं। लेकिन कम ही लोग इस बारे में जानते हैं कि एक सिंगर होने साथ ही वे एक बेहतरीन कुक भी हैं। ऐसे में आज उनके जन्मदिन के मौके पर चलिए जानते हैं सिंगर के बारे में कुछ खास बातें।

सिंगर नहीं बनती तो कुक होती हैं आशा ताई :

हमने हमेशा से ही आशा भोसले को गाना गाते हुए देखा है। लेकिन इसके अलावा उनकी खासियत उनका बनाया हुआ खाना भी है। इस मामले में सूत्र बताते हैं कि सिंगर को खाना बनाने का बेहद शौक है। बॉलीवुड के कई स्टार्स तो उनके हाथ के खाने की काफी तारीफ भी करते हैं। उन्हें खाना बनाने का इतना शौक है कि एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने खुद कहा था कि अगर वे सिंगर नहीं होती तो कुक बनती।

बिज़नेस में भी आगे हैं ताई :

खाना बनाने की शौक़ीन आशा भोसले के कई रेस्टोरेंट भी हैं। जो दुबई और कुवैत में काफी फेमस हैं। आशा भोसले की इस रेस्टोरेंट चैन का नाम ‘आशाज’ रखा गया है। इसके साथ ही 'आशाज' को आबुधाबी, दोहा, बहरीन में भी खोला गया है। आशा ताई के इन रेस्टोरेंट की खास बात यह है कि यहां भारतीय खाना खासतौर पर सर्व किया जाता है और इन रेस्टोरेंट के शेफ को ट्रेनिंग देने का काम खुद आशा भोसले करती हैं।

आशाज
आशाजSocial Media

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co