एक्टिंग का जुनून एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को मॉरीशस से मुंबई खींच लाया
एक्टिंग का जुनून एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को मॉरीशस से मुंबई खींच लायाSocial Media

एक्टिंग का जुनून एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को मॉरीशस से मुंबई खींच लाया

भोपाल, मध्यप्रदेश : साईं कबीर की फिल्म टीकू वेड्स शेरू की शूटिंग करने रविवार को इमरान भोपाल पहुंचे हैं। इमरान ने खुद के एक्टिंग सफर और दूसरे अहम मुद्दों पर खास बातचीत की।

भोपाल, मध्यप्रदेश। भोपाल से मेरा गहरा ताल्लुक है, मेरे बचपन का कुछ समय यहां बीता, पढ़ाई भी हुई। सैफ पटौदी का मैं क्लासमेट था, फिर जयपुर चला गया। यह शहर हमेशा मेरी यादों और सपनों में रहता है। यह कहना है, फिल्म एक्टर इमरान हसनी का। कंगना अभिनीत रिवॉल्वर रानी डायरेक्टर करने वाले साईं कबीर की फिल्म टीकू वेड्स शेरू की शूटिंग करने रविवार को इमरान भोपाल पहुंचे हैं। इस फिल्म की शूटिंग आज सोमवार से शुरू हो रही है। इमरान इसमें नवाजुद्दीन सिद्दीकी के भाई का रोल निभाने जा रहे हैं। शूटिंग करीब एक सप्ताह चलेगी। इससे पहले इमरान ने खुद के एक्टिंग सफर और दूसरे अहम मुद्दों पर खास बातचीत की।

खुद के सफर को साझा किया :

मेरा भोपाल से गहरा नाता रहा है, पढ़ाई के सिलसिले में जयपुर जाना हुआ और फिर सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनकर मॉरीशस पहुंच गया। लेकिन मन में बेचैनी थी, कुछ और था, जो मुझे बुला रहा था, वो था एक्टिंग का जुनून। यही जुनून मुझे मॉरीशस से मुंबई ले आया। मैंने नौकरी छोड़ दी और खुद को आजमाने फिल्म इंडस्ट्री में आ गया।

प्रोजेक्ट और फिल्में :

मैंने पान सिंह तोमर में इरफान के भाई का रोल निभाया था, इसके अलावा पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जीवन पर बनी फिल्म में मेरा लीड रोल था, फिल्म रिलीज होने को है, या रब, पीएम नरेन्द्र मोदी में विवेक ओबेरॉय के साथ काम किया। दो दर्जन से ज्यादा फिल्मों के साथ ही कई प्लेस और अन्य प्रोजेक्ट में सक्रिय हूं। हाई टाइड नाम की एक फिल्म डायरेक्ट भी की है।

ओटीटी प्लेटफार्म पर राय :

देखिये ओटीटी को लेकर कई लोगों की अलग राय हो सकती है, लेकिन एक्टर होने के नाते मेरा यह मानना है, कि ओटीटी प्लेटफार्म ने कई कलाकारों को खासतौर पर जूनियर आर्टिस्ट को मौका दिया है। ऐसे कई एक्टर जो डाउन हो चुके थे, उन्हें फिर खुद को साबित करने का चांस मिला है, इसके साथ ही जूनियर कलाकारों और प्रतिभावान लोगों को भी अपना हुनर दिखाने का मौका मिला है। क्योंकि सबके पास बड़े लेवल पर पहुंचने का मौका नहीं होता।

इरफान पर राय :

इरफान के साथ मैने चंबल में 42 दिनों तक चंबल में पान सिंह तोमर की शूटिंग की थी, क्या कहूं। बेहतरीन इंसान और अभिनेता थे, जब उनकी तबियत खराब होने की खबर मिली तो मैं उनसे मिलने गया, कह सकता हूं उनके करीब था, उनके पास फिल्मों की स्क्रिप्ट पढ़ने का जब कम टाइम रहता था, तो वे उसे 3 हिस्सों में बांट देते थे, एक खुद पढ़ते, दूसरा अपनी पत्नि को देते और तीसरा मुझे। कई बार मुझसे स्क्रिप्ट को लेकर बात करते राय लेते। जब आखरी बार मुलाकात हुई तो वे मुझे दरवाजे तक छोड़ने आए। फिर एक दिन भाभी का फोन आया कि तबियत ज्यादा खराब हो गई है और फिर खबर मिली कि वे अब नहीं रहे।

कोविड पर राय :

कोरोना की वजह से फिल्म इंडस्ट्री को बहुत नुकसान झेलना पड़ा। सबसे ज्यादा नुकसान कलाकारों का हुआ। लेकिन अब हालात सुधर रहे हैं, खुशी है, कि इंडस्ट्री वापस पटरी पर लौट रही है, आई विश की सबकुछ जल्द पहले जैसा हो जाए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.