निर्माता लीना मणिमेकलाई को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत
निर्माता लीना मणिमेकलाई को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहतSocial Media

निर्माता लीना मणिमेकलाई को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, 17 फरवरी तक गिरफ्तारी पर लगी रोक

फिल्म निर्माता लीना मणिमेकलाई काफी समय से 'काली पोस्टर विवाद' (Kaali Poster Controversy) के चलते चर्चा में हैं। इस मामले में निर्माता लीना मणिमेकलाई को सुप्रीम से राहत मिली है।

Kaali Poster Controversy: फिल्म निर्माता लीना मणिमेकलाई (Leena Manimekalai) काफी समय से 'काली पोस्टर विवाद' (Kaali Poster Controversy) के चलते चर्चा में हैं। बता दें, बीते दिनों लीना मणिमेकलाई ने अपनी फिल्म 'काली' को लेकर एक पोस्टर जारी किया था। पोस्टर सामने आने के बाद फिल्म को लेकर काफी विवाद देखने को मिला था। जिसके बाद लीना के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई गई थी। इस मामले में निर्माता लीना मणिमेकलाई को सुप्रीम से राहत मिली है। लीना के खिलाफ गिरफ्तारी के मामले में फिलहाल रोक लगा दी गई है।

17 फरवरी तक गिरफ्तारी पर लगी रोक:

बता दें कि, काली पोस्टर विवाद के मामले में निर्माता लीना मणिमेकलाई के खिलाफ गिरफ्तारी के मामले में फिलहाल 17 फरवरी तक रोक लगा दी गई है। कोर्ट ने लीना के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं किए जाने का आदेश दिया है, साथ ही कोई नई एफआई नहीं दर्ज किए जाने का भी निर्देश दिया है।

जानकारी के लिए बता दें कि, चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (CJI) डी वाई चंद्रचूड़ और जस्टिस पीएस नरसिम्हा की पीठ के समक्ष यह मामला सूचीबद्ध किया गया है। मामले में मुख्य न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली पीठ ने राज्यों को नोटिस जारी करते हुए कहा कि, फिल्म निर्माता के खिलाफ पहले से दर्ज की गई एफआईआर के आधार पर या किसी भी प्राथमिकी के आधार पर कोई कठोर कदम नहीं उठाया जाएगा।

लीना के खिलाफ कई जगहों पर दर्ज हुई FIR:

जानकारी के लिए बता दें कि, काली पोस्टर विवाद मामले में लीना के खिलाफ उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली में कई जगहों पर FIR दर्ज हुई थी। लीना पर हिंदुओं की भावनाओं को आहत करने का आरोप लगा है।

क्या है काली पोस्टर विवाद:

वहीं, अगर काली पोस्टर विवाद के बारे में बात करें, तो लीना मणिमेकलाई ने पिछले साल अपनी फिल्म का पोस्टर जारी किया था, जिसमें एक एक्ट्रेस को मां काली के रूप में दिखाया गया है। लीना ने मां काली के रूप को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है, जिसके बाद लोगों का गुस्सा भड़क गया। इसके बाद कई राज्यों में उनके खिलाफ प्रदर्शन हुए थे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co