लड़कियों के सिर चढ़कर बोलता था साधना का हेयर स्टाइल
लड़कियों के सिर चढ़कर बोलता था साधना का हेयर स्टाइलSocial Media

लड़कियों के सिर चढ़कर बोलता था साधना का हेयर स्टाइल, जानिए कैसे बना था यह साधना कट?

साधना ने बॉलीवुड की कई बड़ी फिल्मों में काम किया, इनमें से ज्यादातर फ़िल्में सफल रहीं। इसके साथ उनका साधना हेयर स्टाइल भी काफी फेमस हुआ।

राज एक्सप्रेस। बॉलीवुड के बीते दौर की कुछ एक्ट्रेसेस ऐसी रहीं है, जिन्होंने ना केवल अपनी बेहतरीन अदाकारी से लोगों के बीच नाम कमाया। बल्कि लोगों के बीच अपनी सादगी की ऐसी छाप छोड़ी की आज भी वे एक मिसाल बनकर सबके सामने खड़ी हैं। इन्हीं नामों में से एक हैं साधना शिवदासानी। साधना ने बॉलीवुड की कई बड़ी फिल्मों में काम किया, और इनकी खासियत है कि इनमें से ज्यादातर फ़िल्में सफल रहीं। इसके साथ ही उनका साधना हेयर स्टाइल इतना फेमस हुआ है कि उस समय जिस लड़की को देखते थे, वह साधना कट में ही नजर आती थी। आज साधना शिवदासानी के जन्मदिवस के मौके पर चलिए जानते हैं उनके बारे में खास बातें।

कैसे बनीं फिल्मों का हिस्सा?

खूबसूरत और बेहतरीन अभिनेत्री साधना शिवदासनी का जन्म 2 सितंबर 1941 को ब्रिटिश भारत के कराची (अब पाकिस्तान) में हुआ था। वे बचपन से ही एक अभिनेत्री बनना चाहती थीं। अपना सपना पूरा करने का मौका उन्हें मिला एक सिन्धी फिल्म 'अबाना' से। इस समय वे महज 17 साल की थीं। लेकिन जब इस फिल्म के पोस्टर को फिल्मफेयर में मशहूर प्रोड्यूसर शशाधर मुखर्जी ने देखा तो वे बहुत आकर्षित हुए। इसके बाद 1960 में साधना को निर्देशक आर।के। नायर ने फिल्मों में ब्रेक दिया। बस यही से साधना का फ़िल्मी सिलसिला शुरू हुआ जो चलता ही रहा।

कैसे बना साधना हेयर स्टाइल?

बात उस समय की है जब ‘लव इन शिमला’ का काम चल रहा था। लेकिन फोटोज में साधना का सिर उभरकर सामने आता था। इसे ढंकने के लिए कई प्रयास किए गए लेकिन कोई काम नहीं बना। आखिरकार उन दिनों हॉलीवुड की फेमस अभिनेत्री ऑड्रे हेपबर्न के हेयरस्टाइल को देखकर साधना का यह कट बनाया गया। यह आईडिया काम कर गया, और लोगों ने इस हेयर स्टाइल को इतना पसंद किया कि यह साधना कट ही बन गया।

पहली फिल्म की कमाई थी 1 रुपया :

साधना ने अपनी पहली फिल्म 'अबाना’ में केवल 1 रुपए में काम किया था। हालांकि इस फिल्म से उन्हें खास पहचान भी नहीं मिली और उन्होंने आगे काम करना जारी रखा। जिसके बाद साधना के लिए फिल्म ‘लव इन शिमला’ किसी मील का पत्थर बनी। फिल्म के सफल होने के बाद उन्होंने फिल्माल्या के साथ तीन साल का कॉन्ट्रेक्ट साइन किया। इस दौरान उन्हें केवल 750 रुपए प्रतिमाह दिया जाता था, जिसे दूसरे साल में 1500 रुपए और तीसरे साल में 3000 रुपए किया गया था। इसके बाद फिल्मों के सफल होने पर वे उस समय की सबसे महंगी एक्ट्रेस में से एक भी बनीं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co