शाहरुख खान की इस पोस्ट पर सयानी गुप्ता का फूटा गुस्सा, ट्वीट कर कही यह बात

शाहरुख खान ने गांधी जयंती के मौके पर पोस्ट शेयर करते हुए सभी को बधाई दी, लेकिन शाहरुख का ये बधाई देने का तरीका अभिनेत्री सयानी गुप्ता को पसंद नहीं आया।
शाहरुख खान की इस पोस्ट पर सयानी गुप्ता का फूटा गुस्सा, ट्वीट कर कही यह बात
शाहरुख खान की इस पोस्ट पर सयानी गुप्ता का फूटा गुस्साSocial Media

बीते दिन शुक्रवार को गांधी जंयती के खास मौके पर पूरे देश ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद करते हुए पोस्ट शेयर किया था। बॉलीवुड सेलिब्रिटीज ने भी गांधी जयंती के मौके पर सोशल मीडिया कि, जरिए अपने फैंस को इस खास दिन की बधाई दी और अलग-अलग पोस्ट के जरिए बापू के संदेश पहुंचाने की कोशिश की। शाहरुख खान ने भी गांधी जयंती के मौके पर सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर करते हुए सभी को बधाई दी, लेकिन शाहरुख का ये बधाई देने का तरीका अभिनेत्री सयानी गुप्ता को पसंद नहीं आया। सयानी गुप्ता ने शाहरुख खान के इस पोस्ट पर तंज कसा है।

शाहरुख खान ने शेयर किया था ये पोस्ट:

अभिनेता शाहरुख खान ने अपनी पोस्ट के साथ एक फोटो भी शेयर की है। इस तस्वीर में सुहाना ने अपनी आंखों पर हाथ रखा हुआ है, जो दिखाता है कि बुरा नहीं देखना चाहिए। ट्वीट में शाहरुख ने लिखा, "इस गांधी जयंती अगर हम अपने बच्चों को बताना या सिखाना चाहे, तो कुछ ऐसा बताएं जो उनके अच्छे और बुरे समय में काम आए, तो वो ये है कि बुरा मत सुनो, बुरा मत कहो और बुरा मत सुनो।" शाहरुख की इस पोस्ट को सुहाना खान की पोस्ट से जोड़ा जा रहा है, जिसमें उन्होंने अपने स्किन टोन को लेकर बात की थी।

सयानी गुप्ता ने दिया रिएक्शन:

बता दें कि, अभिनेत्री सयानी गुप्ता ने शाहरुख खान के इस पोस्ट पर तंज कसते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर किया है। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करते हुए लिखा है, "सही तो बोलना ही चाहिए। गांधी जी ने हमें ये भी सिखाया है कि, सत्य के लिए बोलना चाहिए। पीड़ितों के लिए आवाज उठानी चाहिए, दलित भाई-बहनों के हक के लिए बोलना चाहिए। सिर्फ अपने आंख-कान बंद नहीं कर लेने चाहिए।"

गौरतलब है कि, हाल ही में कुछ दिनों पहले शाहरुख खान की बेटी सुहाना खान ने सोशल मीडिया पर अपने स्किन कलर को लेकर बात कही थी। उन्होंने रंगभेद करने वाले को करारा जवाब दिया था। सुहाना ने अपने सोशल मीडिया पर लिखा था, "अभी बहुत कुछ चल रहा है और यह उन मुद्दों में से एक है, जिन्हें हमें ठीक करने की जरूरत है। यह सिर्फ मेरे बारे में नहीं है, यह हर युवा लड़की और लड़के के बारे में है, जो बिना किसी कारण हीन भावना के साथ बड़े हुए हैं। मेरे लुक्स को लेकर बहुत कुछ कहा गया है। जब मैं 12 साल की थी तब मुझे बताया गया कि मैं अपनी स्किन के कारण बदसूरत हूं। ऐसा कहने वालों में बड़े पुरुष और महिलाएं शामिल हैं।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co