गोलमाल सीरीज को मिस कर रहा हूं - शरमन जोशी

पिछले दिनों फिल्म 'बबलू बैचलर' से जुड़े एक प्रमोशनल इवेंट में हमारी मुलाकात शरमन जोशी से हुई। इस मुलाकात में शरमन से हमने उनकी फिल्म के बारे में काफी कुछ जाना। पेश हैं हमारी बातचीत के प्रमुख अंश।
गोलमाल सीरीज को मिस कर रहा हूं - शरमन जोशी
Sharman Joshi InterviewKavita Singh Rathore -RE

राज एक्सप्रेस। गोलमाल और थ्री इडियट्स जैसी बेहतरीन फिल्मों का हिस्सा रह चुके अभिनेता शरमन जोशी इन दिनों अपनी आगामी फिल्म 'बबलू बैचलर' के प्रमोशन में व्यस्त हैं। शरमन जोशी की यह फिल्म जल्द ही सिनेमाघरों में दस्तक देगी। पिछले दिनों फिल्म से जुड़े एक प्रमोशनल इवेंट में हमारी मुलाकात शरमन जोशी से हुई। इस मुलाकात में शरमन से हमने उनकी फिल्म के बारे में काफी कुछ जाना। पेश हैं हमारी बातचीत के प्रमुख अंश।

फिल्म में अपने किरदार के बारे में बताएं ?

फिल्म में मेरे किरदार का नाम बबलू है जो कि शादी नहीं करना चाहता। उसे एक परफेक्ट लड़की की तलाश है लेकिन उसे वो परफेक्ट लड़की मिल नहीं रही है। दूसरी तरफ उसकी उम्र भी बढ़ती जा रही है। इसी बीच उसकी जिंदगी में एक लड़की आती है लेकिन बबलू को वो लड़की पसंद नहीं आती क्योंकि वो वर्जिन नहीं है। उसके बाद जिस लड़की से बबलू की शादी फिक्स होती है वो शादी के दिन ही भाग जाती है। इससे ज्यादा मैं आपको अपने किरदार के बारे में नहीं बता सकता।

फिल्म में दो हीरोइनें हैं, उनके साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा ?

पूजा चोपड़ा और तेजश्री प्रधान दोनों ही बेहतरीन एक्ट्रेस हैं। दोनों के साथ फिल्म करने के दौरान काफी मजा आया। दोनों के साथ मेरी सेट पर भी ट्यूनिंग अच्छी रही। पूजा चोपड़ा के साथ मैं फिल्म टॉम डिक एंड हैरी 2 कर चुका हूं और तेजश्री के साथ भी कई प्ले कर चुका हूं। तेजश्री मराठी सिनेमा की बड़ी एक्ट्रेस भी हैं।

आपने इंडस्ट्री में अभी तक जो भी हासिल किया है, वो खुद की काबिलियत पर हासिल किया है। इस बारे में क्या कहेंगे ?

सच कहूं तो मेरी पर्सनालिटी भी कुछ ऐसी ही है। मैं लाइफ में अपनी काबिलियत पर ही कुछ भी पाना चाहता हूं। सलमान खान का डायलॉग है कि मुझ पर एक अहसान करना कि कोई अहसान मत करना। मैं किसी का अपने करियर पर अहसान नहीं चाहता। मैंने अपने करियर में अच्छे दौर भी देखें हैं। जब मैं बड़े-बड़े डायरेक्टर्स के साथ काम कर रहा था। उस दौर का भी एक मजा था। यहां इंडस्ट्री में कोई किसी की मदद नहीं करता। आपको खुद के लिए खुद ही कुछ करना पड़ता है। मैं अपनी प्रेजेंट स्थिति से खुश हूं और आने वाले दिनों में अच्छा काम करना चाहता हूं।

जब आपको फिल्में नहीं चलती हैं तो कैसा लगता है ?

जी, पहले तो बहुत बुरा लगता था क्योंकि मैं ही नहीं कोई भी अभिनेता अपनी फिल्म के लिए बहुत मेहनत करता है और जब फिल्म नहीं चलती तो दुःख होता है। उसके बाद आदत होने लगती है। इंडस्ट्री में एक प्रॉब्लम है कि यहां पर अगर आपकी तीन चार फिल्में लगातार फ्लॉप हो जाती हैं तो लोग आपको भूल जाते हैं। कई लोग मुझसे पूछते हैं कि मैं कहां था तो मैं उन्हें याद दिलाता हूं कि मैं तो यही था बस मेरी पिछली कुछ फिल्में नहीं चली हैं।

क्या आप गोलमाल सीरीज मिस कर रहे हैं और अगर आपको मौका मिले तो क्या गोलमाल सीरीज का हिस्सा बनना चाहेंगे ?

हां, मैं गोलमाल सीरीज को मिस करता हूं। अगर मुझे गोलमाल सीरीज की अगली फिल्म ऑफर होती है तो मैं उस सीरीज का हिस्सा जरूर बनना चाहूंगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co