Raj Express
www.rajexpress.co
Chase No Mercy To Crime
Chase No Mercy To Crime |संपादित तस्वीर
मनोरंजन

रिव्यू - एक्शन एंड एडवेंचर का कॉम्बिनेशन है चेज नो मर्सी टू क्राइम

इस हफ्ते डायरेक्टर एसआरजी द्वारा निर्देशित और मीना सेठी मंडल द्वारा निर्मित फिल्म 'चेज नो मर्सी टू क्राइम' सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है। कैसी है फिल्म चलिए जानते हैं।

Pankaj Pandey

Pankaj Pandey

फिल्म से जुड़ी जानकारी :

फिल्म - चेज नो मर्सी टू क्राइम

स्टारकास्ट - अमित सेठी, दीपांजन बसक, सुदीप मुखर्जी

डायरेक्टर - एसआरजी

प्रोडूयसर - मीना सेठी मंडल

रेटिंग - 3.5 स्टार

स्टोरी :

फिल्म 'चेज नो मर्सी टू क्राइम' की कहानी झारखंड के बापजी कहे जाने वाले शैलेंद्र यादव और उनके बेटे सतेंद्र यादव (अमित सेठी) के इर्द-गिर्द घूमती है। पूरे शहर में बापजी की तूती बोलती है और बापजी का बेटा सतेंद्र यादव चुनाव लड़ना चाहता है, जिसके लिए बापजी को पार्टी फंड में कई करोड़ रुपये जमा करने हैं, जिसके चलते बापजी और सतेंद्र एक ट्रेन में डकैती करवा देते हैं। इस डकैती से लगभग 80 करोड़ रुपये लूट लेते हैं और पार्टी फंड में जमा कर देते हैं, लेकिन अब पार्टी को पूरे 100 करोड़ रुपये चाहिए। अब बापजी और सतेंद्र बाकी बचे पैसों की व्यवस्था करने में लग जाते हैं। वहीं दूसरी तरफ बंगाल पुलिस इस डकैती की छानबीन में लगी हुई है। आखिरकार वेस्ट बंगाल पुलिस को छानबीन के दौरान पता चल जाता है कि, इस डकैती के पीछे बापजी और सतेंद्र यादव का हाथ है, लेकिन पुलिस के पास किसी भी तरह सुराग नहीं है। वेस्ट बंगाल क्राइम ब्रांच हेड अविनाश (सुदीप मुखर्जी) और उनकी टीम के सबसे जांबाज अफसर इमरान (दीपांजन बसक) मिलकर बापजी और उसके बेटे सतेंद्र यादव को पकड़ने के लिए एक प्लान बनाते हैं। अब यह क्या प्लान है और क्या वेस्ट बंगाल पुलिस बापजी और सतेंद्र यादव को पकड़ पाएगी। इन सवालों के जवाब आपको फिल्म देखने के बाद पता चलेंगे।