अमिताभ बच्चन ने दिव्यांग से खरीदी 50 हजार में पेंटिंग
अमिताभ बच्चन ने दिव्यांग से खरीदी 50 हजार में पेंटिंग|Social Media
मनोरंजन

अमिताभ बच्चन ने दिव्यांग से खरीदी 50 हजार में पेंटिंग, क्या है खास

हाल ही में अमिताभ ने कुछ ऐसा किया है कि, जिसकी वजह से वह चर्चा में आ गए हैं। दरअसल, अमिताभ ने एक दिव्यांग द्वारा बनाई हुई पेंटिंग खरीद ली है।

Sudha Choubey

Sudha Choubey

राज एक्सप्रेस। महानायक अमिताभ बच्चन फिल्मों में अपने काम के अलावा अपनी दरियादिली के लिए भी जाने जाते हैं। अमिताभ को कई बार किसानों, बाढ़ पीड़ितों और सूखा पीड़ितों के लिए डोनेशन करते देखा गया है। हाल ही में अमिताभ ने कुछ ऐसा किया है कि, जिसकी वजह से वह चर्चा में आ गए हैं। दरअसल, अमिताभ ने एक दिव्यांग द्वारा बनाई हुई पेंटिंग खरीद ली है।

50 हजार में खरीदी यह पेंटिंग :

आपको बता दें कि, एक दिव्यांग अमिताभ के पास अपनी पेंटिंग लेकर पहुंचा और अमिताभ ने ये पेंटिंग 50 हजार रुपये में खरीद ली है। मध्यप्रदेश के जिला खरगोन का रहने वाला दिव्यांग आयुष के हाथ नहीं हैं और वह अपने पैरों से पेंटिंग बनाते हैं। आयुष ने अपने पैरों से अमिताभ बच्चन की पेंटिंग बनाई थी, जिसे देखने के बाद बिग बी ने उन्हें मुंबई बुलाया और 20 मिनट तक मुलाकात की। अमिताभ ने जब आयुष की पेंटिंग देखी तो वह बस उसे देखते रह गए।

'कौन बनेगा करोड़पति' के लुक में बनाई पेंटिंग :

आयुष ने अमिताभ की ये पेंटिंग उनके 'कौन बनेगा करोड़पति' वाले लुक में बनाई थी। 'कौन बनेगा करोड़पति' के सीजन 11 को देखते हुए आयुष ने बिग बी की पेंटिंग बनाई थी। आयुष ने 10 जनवरी को अपने ट्वीटर अकाउंट पर इसे पोस्ट किया था। जब यह पेंटिंग वायरल हुई, तो अमिताभ बच्चन तक पहुंच गयी।

आयुष को मिला 'केबीसी 12' में आने का न्यौता :

अमिताभ बच्चन ने इशारों से आयुष से उसकी इच्छा के बारे में पूछा। बेटे के इशारों को मां ने समझाया। आयुष की मां ने बताया कि, वो 'कौन बनेगा करोड़पति' के हॉट सीट पर बैठना चाहता है। इसके बाद अमिताभ बच्चन ने उसे 'कौन बनेगा करोड़पति' सीजन 12 में आने का न्यौता दिया।

अमिताभ से मिलने के बाद आयुष की मां ने कहा :

अमिताभ से मिलने के बाद आयुष की मां सरोज कुण्डल ने बताया कि, "उनका ये अनुभव बहुत अच्छा रहा और उन्हें बहुत खुशी हुई। उन्होंने कहा कि, वह उस पल को शब्दों में बयां नहीं कर सकतीं। उन्होंने कहा, "उसके चेहरे पर इतनी खुशी देखते तो आप दंग रह जाते। इसमें इसका खुद का भी प्रयास था और इसके दोस्त बने थे चेतन गांधी और सुरेश जुम्मानी इनका बहुत प्रयास था। सोशल मीडिया का प्रयास रहा।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co