'द कश्मीर फाइल्स' का मोशन पोस्टर रिलीज, कश्मीरी पंडित के किरदार में दिखेंगे अनुपम खेर
'द कश्मीर फाइल्स' का मोशन पोस्टर रिलीजSudha Choubey - RE

'द कश्मीर फाइल्स' का मोशन पोस्टर रिलीज, कश्मीरी पंडित के किरदार में दिखेंगे अनुपम खेर

बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर (Anupam Kher) जल्द ही फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' (The Kashmir Files) में नजर आने वाले हैं। फिल्म का मोशन पोस्टर रिलीज कर दिया गया है।

बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर (Anupam Kher) अपनी दमदार एक्टिंग के लिए जाने-जाते हैं। फैंस उनकी एक्टिंग के दीवाने हैं। अनुपम खेर जल्द ही फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' (The Kashmir Files) में नजर आने वाले हैं। फैंस इस फिल्म का काफी समय से इंतजार कर रहें हैं। अब हाल ही में अनुपम खेर ने अपने सोशल मीडिया पर इस फिल्म का मोशन पोस्टर शेयर किया है। अपनी पिछली फिल्म 'द ताशकंद फाइल्स' समीक्षकों द्वारा प्रशंसा बटोरने के बाद ज़ी स्टूडियोज़ और लेखक-निर्देशक विवेक रंजन अग्निहोत्री ने एक अन्य हार्ड-हीटिंग फिल्म पेश करने के लिए फिर से सहयोग किया।

अनुपम खेर ने शेयर किया मोशन पोस्टर:

अभिनेता अनुपम खेर ने हाल ही में अपने सोशल मीडिया पर अपनी फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' का मोशन पोस्टर शेयर किया है। मोशन पोस्टर की प्रमुख विशेषताओं में से एक अनुपम का खूबसूरत वॉयसओवर है, जिसमें उनके केरेक्टर को दिखाया गया है कि, कैसे कश्मीर को हमेशा से ऋषियों, संतों और साधुओं की भूमि के रूप में जाना जाता रहा है। विवेक रंजन अग्निहोत्री द्वारा लिखित और निर्देशित, इस फिल्म में मिथुन चक्रवर्ती, अनुपम खेर, दर्शन कुमार, पल्लवी जोशी, भाषा सुंबली और चिन्मय मंडलेकर जैसे दिग्गज कलाकार अहम भूमिका में हैं।

सच्ची कहानी पर आधारित है फिल्म:

बता दें कि, फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स’ एक सच्ची कहानी है, जो कश्मीरी पंडित समुदाय के कश्मीर नरसंहार की पहली पीढ़ी के पीड़ितों के वीडियो इंटरव्यू पर आधारित है। यह कश्मीरी पंडितों के दर्द, पीड़ा, संघर्ष और आघात का दिल दहला देने वाला नरेटिव है। यह फिल्म लोकतंत्र, धर्म, राजनीति और मानवता के बारे में आंखें खोलने वाले तथ्यों पर सवाल उठाती है।

कश्मीरी पंडित के किरदार में अनुपम खेर:

आपको बता दें कि, फिल्म में अनुपम खेर पुष्कर नाथ पंडित, फिलॉसफी के एक रिटायर्ड प्रोफेसर की भूमिका निभाते हुए, अनुपम खेर का करैक्टर अपने बेटे, बहू और दो पोते के साथ श्रीनगर से तालुख रखता है। 19 जनवरी साल 1990 की भयानक रात में, उन्हें कश्मीर से भागना पड़ता है और आगे जो होता है, वह कहानी की जड़ है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co