प्राइमस को-वर्क्स ने मुंबई में शुरू की सेवाएं
प्राइमस को-वर्क्स ने मुंबई में शुरू की सेवाएं|Pankaj Pandey
मनोरंजन

प्राइमस को-वर्क्स ने मुंबई में शुरू की सेवाएं

डिसरप्टिव एंड इनोवेटिव को-वर्किंग स्पेस कंपनी प्राइमस को-वर्क्स के संस्थापकों ने मुंबई और पुणे में अपनी अनूठी सेवाओं के शुरुआत की घोषणा की है।

Pankaj Pandey

Pankaj Pandey

राज एक्सप्रेस। डिसरप्टिव एंड इनोवेटिव को-वर्किंग स्पेस कंपनी प्राइमस को-वर्क्स के संस्थापकों ने मुंबई और पुणे में अपनी अनूठी सेवाओं के शुरुआत की घोषणा की है। मुंबई और पुणे के उत्कृष्ट स्थानों के 32 बेहतरीन रेस्टोरेंट्स और कैफे के साथ मिलकर वे लीक से हटकर अपने आइडिया को फ़ैलाने और आगे बढ़ाने में जुटे हुए हैं। कंपनी का मकसद अपने व्यापक लक्षित ग्राहकों की सेवा करते हुए ऑफ-पीक ऑवर्स के दौरान लाउंज बार्स, कैफेज और रेस्टोरेंट्स को समर्पित कार्यक्षेत्र (डेडिकेटेड वर्कप्लेस) में तब्दील करना है। यह ऐसे वर्कस्पेस का वादा करता है, जो सुविधाजनक और आरामदेय होने के साथ ही प्रॉडक्टिव भी हो।

जीवंत वातावरण उपलब्ध कराएंगे ये स्थान :

यह काँसेप्ट निश्चित रूप से फ्रीलांसर्स, एसएमईस और स्टार्ट-अप्स के लिए बहुत कारगर साबित होगा, क्योंकि प्राइमस को-वर्क्स किफायती और पूरी तरह से मैनेज्ड वर्कस्पेस उपलब्ध कराता है। ये स्थान एक जीवंत वातावरण उपलब्ध कराएंगे जो उनकी दक्षता, रचनात्मकता और ऊर्जा को बढ़ाएगा।

यदि कोई मुंबई में है, तो वह चुनिंदा रेस्टोरेंट्स की सूची में से किसी एक को चुन सकता है। सूची में 'द क्लियरिंग हाउस' जैसे नामी स्टोरेंट से लेकर लव एंड लैटे जैसे आकर्षक कैफे शामिल हैं। अगर कोई पुणे है, तो वह नवाब एशिया जैसे फॉर्मल रेस्टोरेंट्स से लेकर प्लेबॉय बीयर गार्डन जैसे कैजुअल हैंगआउट स्पॉट्स को चुन सकता है। इसके अलावा प्राइमस ऐसी सुविधाएँ भी मुहैया कराता है जो किसी को पारंपरिक रूप से रेस्टोरेंट में काम करते हुए नहीं मिल सकतीं। जैसे रेप्रो सर्विसेस, कन्सीर्ज(द्वारपाल) सर्विसेस, एक्जीक्यूटिव असिस्टेंस, वैलेट पार्किंग, अनलिमिटेड काँम्प्लीमेंट्री बेवरेजेस और रियायती मेनू इत्यादि।

जाने-माने विज्ञापन-निर्माता एंड डायरेक्टर अभिनव देव और शार्दुल सिंह ब्यास इस विचार के पीछे के मास्टरमाइंड हैं और उन्होंने मुंबई में लांच इवेंट के दौरान अपनी योजनाओं का खुलासा किया।

अभिनव देव ने कहा :

अभिनव देव कहते हैं, "हमारा कांसेप्ट काफी अलग है और उस गहरी अंतर्दृष्टि पर आधारित है जिससे दर्शकों को गुजरना पड़ता है। हमने देखा कि आजकल युवा कॉफी शॉप्स पर हमेशा बगैर वाईफ़ाई या बुनियादी सेवाओं के यूं ही बैठे रहते हैं और हम प्राइमस को-वर्क्स के साथ इसको बदलना चाहते हैं। हम पहले से ही मुंबई में 25 से ज्यादा रेस्टोरेंट्स के साथ काम कर रहे हैं और ये संख्या अगले कुछ महीनों में तीन गुना हो जाएगी।''

शार्दुल सिंह ब्यास का कहना :

शार्दुल सिंह ब्यास ने कहा, "हमने इस काँसेप्ट का पुणे में परीक्षण किया है और यह बखूबी काम कर रहा है। एक बाजार के रूप में मुंबई बहुत ही प्रयोगात्मक है। इस काँसेप्ट को मैं यहाँ भी अच्छी तरह से काम करते हुए देख रहा हूँ। प्राइमस को-वर्क्स उन सब लोगों के लिए है, जिन्हें अपनी रचनात्मकता को बढ़ाने के लिए सही सर्विस के साथ आरामदायक वर्कस्पेस की जरूरत है।”

प्राइमस को-वर्क्स ने मार्च 2020 तक पूरे भारत में अपनी डेडिकेटेड रेस्टोरेंट वर्कप्लेस के पहल करने की योजना बनाई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर ।

Raj Express
www.rajexpress.co