पंजाबी फिल्म 'शूटर' पर लगा बैन
पंजाबी फिल्म 'शूटर' पर लगा बैन|Social Media
मनोरंजन

इस गैंगस्टर के जीवन पर आधारित पंजाबी फिल्म 'शूटर' पर लगा बैन

गैंगस्टर सुखबीर सिंह उर्फ सुक्खा काहलवां के जीवन पर आधारित फिल्म 'शूटर' को पंजाब सरकार ने बैन कर दिया है।

Sudha Choubey

Sudha Choubey

राज एक्सप्रेस। गैंगस्टर सुक्खा काहलवां के जीवन पर आधारित पंजाबी फिल्म 'शूटर' रीलिज होने से पहले ही विवादों में घिरी हुई है। गैंगस्टर सुखबीर सिंह उर्फ सुक्खा काहलवां के जीवन पर आधारित फिल्म 'शूटर' को पंजाब सरकार ने बैन कर दिया है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने फिल्म 'शूटर' पर प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया है।

एएनआई ने किया ट्वीट :

एएनआई के ट्वीट के अनुसार, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सुक्खा काहलवां के जीवन पर आधारित फिल्म 'शूटर' पर बैन लगाने का आदेश दिया है। उन्होंने कहा, "फिल्म हिंसा, जबरन वसूली, जघन्य अपराध और आपराधिक धमकी को बढ़ावा देती है।"

सरकार ने कहा :

सरकार ने रविवार को कहा कि, इस फिल्म को बैन किया जाए, क्योंकि यह फिल्म हिंसा, अपराध और गैंग कल्चर को प्रमोट कर रही है, जो कि पंजाब में अपराध को बढ़ावा दे सकती है। सरकार का कहना है कि, ये फिल्म पंजाब के कुख्यात गैंगस्टर सुक्खा काहलवां के जीवन पर अधारित है और इस फिल्म के रिलीज होने से पंजाब की युवा पीढ़ी पर बुरा प्रभाव पड़ेगा।

पंजाब सरकार के प्रवक्ता का कहना :

पंजाबी फिल्म 'शूटर' रिलीज होने से पहले ही विवादों में घिरी हुई थी। पंजाब सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा कि, राज्य सरकार ने अपराध को खत्म करने के लिए अहम कदम उठाए हैं और कांग्रेस पंजाब में हिंसा को फैलाने वाली किसी भी सामग्री को समाज में फैलने नहीं देंगे। पंजाब सरकार ये सुनिश्चित कर रही है कि, पंजाब का माहौल हिंसा फैलाने वाले गानों और फिल्मों से खराब न हो।

View this post on Instagram

Sukha Kahlon 21Feb 2020

A post shared by sukha kahlon sharpshooter (@sukha_kahlon007) on

डीजीपी ने किया खुलासा :

डीजीपी ने खुलासा किया कि, पंजाब में इस विवादास्पद फिल्म पर प्रतिबंध लगाने के मामले पर शुक्रवार को मुख्यमंत्री के साथ बैठक में चर्चा हुई थी, जहां ADGP वरिंदर कुमार ने फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की सिफारिश की थी, जिसका ट्रेलर 18 जनवरी को जारी किया गया था। उन्होंने सुझाव दिया था कि, फिल्म बेहद कट्टरपंथी है।

इस बारे में पंजाब के ADGP वरिंदर कुमार ने पंजाब सरकार के होम अफेयर एंड जस्टिस के चीफ सेक्रेटरी को लेटर लिख इस पर बैन लगाने की मांग भी की थी। माना जा रहा है कि, इस फिल्म का पंजाब के युवाओं पर बुरा असर होगा। ADGP वरिंदर कुमार के मुताबिक ऐसे में इस फिल्म की रिलीज और स्क्रीनिंग पर पंजाब में रोक लगाना ही मुनासिब होगा।

जाना माना गैंगस्टर था सुक्खा काहलवां :

आपको बता दें कि, सुक्खा काहलवां का आतंक पंजाब के अलावा हरियाणा, राजस्थान और पश्चिम बंगाल में भी फैला हुआ था। सुक्खा ने साल 2010 में अपराध की दुनिया में कदम रखा था और वह जल्द ही पंजाब का जाना-माना गैंगस्टर भी बन गया। जनवरी 2015 में जब पुलिस सुक्खा को जेल से कोर्ट में पेशी के लिए लेकर जा रही थी तभी अज्ञात हमलावरों ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी थी। बताया जाता है कि, सुक्खा काहलवां पर करीब 40 के आसपास आपराधिक मामले दर्ज थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co