Raj Express
www.rajexpress.co
फिल्म 'फेयर इन लव' रिव्यू
फिल्म 'फेयर इन लव' रिव्यू |Social Media
मनोरंजन

रिव्यू - बेहतरीन संदेश देती है फिल्म 'फेयर इन लव'

बॉलीवुड : निर्देशक, लेखक और गीतकार ए. के. मिश्रा की फिल्म 'फेयर इन लव' सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है। ये फिल्म समाज को बेहतरीन संदेश देती है।

Pankaj Pandey

Pankaj Pandey

फिल्म से जुड़ी जानकारी :

फिल्म - फेयर इन लव

स्टारकास्ट- फ़िरोज़ खान, कनुप्रिया शर्मा, डॉली आर्य, अश्विन धर

डायरेक्टर - ए. के. मिश्रा

प्रोडूयसर - आशुतोष मिश्रा

रेटिंग - 3 स्टार

राज एक्सप्रेस। निर्देशक, लेखक और गीतकार ए. के. मिश्रा की फिल्म 'फेयर इन लव 'सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है। कैसी है फिल्म चलिए जानते हैं।

स्टोरी :

फिल्म अल्पना (कनुप्रिया शर्मा) नामक एक ऐसी लड़की की कहानी है, जो उत्तर प्रदेश के महिला कल्याण मंत्री की बेटी है। अल्पना‌ को देव (फ़िरोज़ खान) से प्यार है जो कि, पेशे से इंजीनियर है और नक्सलवादी संगठन के प्रमुख का बेटा है। देव और अल्पना एक-दूसरे से शादी कर लेते हैं, लेकिन इस शादी से दोनों के परिवार वाले खुश नहीं हैं। शादी के बाद अल्पना को उसके बांझपन को लेकर ताने मारे जाने लगते हैं लेकिन अल्पना अपने पति की कमियों को समाज के सामने उजागर नहीं करना चाहती, क्योंकि उसका पति देव कभी बाप नहीं बन सकता। इसी बीच एक दिन देव अपने काम के सिलसिले में बाहर जाता है और उसी रात अल्पना का रेप हो जाता है। रेप के बाद अल्पना प्रेग्नेंट हो जाती है। अब अल्पना को समझ नहीं आ रहा होता है कि, वो खुश रहे या फिर दुखी, क्योंकि वो हमेशा से प्रेग्नेंट होना चाहती थी, लेकिन अल्पना अब फैसला करती है कि, वो उस इंसान के बारे में जानकर रहेगी जिसने उसका रेप किया है। अब क्या कभी अल्पना उस रेपिस्ट के बारे में जान पाएगी और क्या देव इस बच्चे को अपनाएगा। इन सवालों के जवाब आपको फिल्म देखने के बाद पता चलेंगे।

डायरेक्शन :

फिल्म को डायरेक्ट ए के मिश्रा ने किया है। फिल्म देखने के बाद हम इतना आसानी से कह सकते हैं कि, कुछ कमियों को अगर छोड़ दिया जाए, तो फिल्म का डायरेक्शन ठीक है। फिल्म का स्क्रीनप्ले बढ़िया नहीं है। फिल्म की सिनेमेटोग्राफी औसत है। फिल्म का म्यूजिक भी औसत दर्जे का है, लेकिन फिल्म का सब्जेक्ट अच्छा है।

फिल्म 'फेयर इन लव' रिव्यू
फिल्म 'फेयर इन लव' रिव्यू
Social Media

परफॉर्मेंस :

परफॉर्मेंस की बात करें, तो फ़िरोज़ खान का काम ठीक-ठाक है, लेकिन कुछ सीन्स में वो कमजोर नजर आते हैं। कनुप्रिया शर्मा का काम भी ठीक है। डॉली आर्य और अश्विन धर ने किरदार के साथ इंसाफ किया है।

क्यों देखें :

फिल्म फेयर इन लव एक संजीदा किस्म की सामाजिक संदेश देने वाली फिल्म है। फिल्म में दिखाया गया है कि, हमारा समाज औरतों को बच्चा पैदा करने वाली मशीन समझता है। कई बार पुरुषों में कमियां रहती है, लेकिन दोषी महिलाओं को समझा जाता है। इसके अलावा फिल्म में महिलाओं पर होने वाले अत्याचारों को भी दिखाया गया है।