Mirzapur के मेकर्स की मुश्किलें बढ़ी, सुप्रीम कोर्ट ने भेजा नोटिस
Mirzapur के मेकर्स की मुश्किलें बढ़ी, सुप्रीम कोर्ट ने भेजा नोटिसSocial Media

Mirzapur के मेकर्स की मुश्किलें बढ़ी, सुप्रीम कोर्ट ने भेजा नोटिस

Mirzapur: अमेजन प्राइम की चर्चित वेब सीरीज 'मिर्जापुर' की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। अब वेब सीरीज के निर्माता और निर्देशक को सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस भेज कर जवाब मांगा है।

Mirzapur: अमेजन प्राइम की चर्चित वेब सीरीज 'मिर्जापुर' की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। जिस तरह वेब सीरीज के कंटेंट पर सामाजिक छवि और धार्मिक भावनाओं को आहत करने के आरोप लग रहे हैं। इस मामले में अब निर्देशक और निर्माताओं को कोर्ट की तरफ से भी कोई राहत नहीं मिल रही है। अब वेब सीरीज के निर्माता और निर्देशक को सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस भेज कर जवाब मांगा है।

नोटिस भेज मांगा गया है जवाब:

जानकारी के अनुसार, वकील और मिर्जापुर जिले के मूल निवासी रुद्र विक्रम सिंह की याचिका पर सुनवाई करते हुए 3 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट ने अपना सख्त रुख अपनाया है। उच्चतम न्यायालय ने वेब सीरीज 'मिर्जापुर' के डायरेक्टर और प्रोड्यूसर को दूसरा नोटिस भेज कर जवाब मांगा है।

वेब सीरीज पर लगा ये आरोप:

खबरों के अनुसार, मिर्जापुर जिले के मूल निवासी और वकील रुद्र विक्रम ने वेब सीरीज पर आरोप लगाया है कि, मिर्जापुर वेब सीरीज में जनपद की धार्मिक, आध्यात्मिक और सामाजिक जीवन को दर किनार कर जो दर्शाया गया है, उससे जन मानस को आघात पहुंचा है। जिले को माफियाओं का शहर बनाकर दिखाया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने याचिका दाखिल होने के बाद उसी दिन संज्ञान लेकर नोटिस जारी किया है। अब इस मामले की सुनवाई 8 मार्च को होगी। इससे पहले मिर्जापुर जिले में वेब सीरीज निर्माता और प्लेटफॉर्म अमेजन प्राइम वीडियो के खिलाफ मामला दर्ज किया जा चुका है।

तीसरे पार्ट का फैंस कर रहे हैं इंतजार :

गौरतलब है कि, ये वेब सीरीज लोगों द्वारा काफी पसंद की गई है और इस समय इस सीरीज के तीसरे पार्ट को बनाने की चर्चाएं जारी हैं। लेकिन वेब सीरीज को लेकर चल रहे विवाद के चलते अभी तक इसके तीसरे पार्ट को लेकर कोई भी जानकारी सामने नहीं आई हैं। सीरीज के पहले और दूसरे पार्ट को काफी पसंद किया गया और साथ ही कलकारों के अभिनय को सराहा भी गया है। इस सीरीज के साथ कुछ किरदार भी काफी ज्यादा मशहूर हुए हैं, जिनमें कालीन भईया और गुड्डू पंडित जैसे किरदार शामिल हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co