Mirzapur 2 के मेकर्स ने मांगी सुरेंद्र मोहन पाठक से माफी, हटाए जाएंगे सीन

'मिर्जापुर 2' के एक सीन को लेकर उठे विवाद में वेब सीरीज के मेकर्स ने हिंदी उपन्यासकार सुरेंद्र मोहन पाठक से माफी मांग ली है। मेकर्स ने एक पोस्ट शेयर किया है।
Mirzapur 2 के मेकर्स ने मांगी सुरेंद्र मोहन पाठक से माफी, हटाए जाएंगे सीन
Mirzapur 2 के मेकर्स ने मांगी सुरेंद्र मोहन पाठक से माफीSocial Media

पॉपुलर वेब सीरीज 'मिर्जापुर 2' रिलीज हो चुकी है, जिसके बाद इस सीरीज की खूब चर्चाएं हो रही हैं। हालांकि इस वेब सीरीज को लेकर क्राइम फिक्शन बेस्ड नॉवेल लिखने के लिए मशहूर लेखक सुरेंद्र मोहन पाठक ने 'मिर्जापुर 2' के एक सीन में उनके उपन्यास को दिखाने पर आपत्ति जाहिर की थी साथ ही मेकर्स को नोटिस भी भेजा था। उन्होंने कहा था कि, मेकर्स ने उनकी छवि को धूमिल करने का प्रयास किया है, जिसके बाद राइटर से प्रोडक्शन हाउस ने माफी भी मांगी है। इसके साथ ही उन्होंने सीरीज से विवादित सीन हटाने की बात भी कही है।

मेकर्स ने शेयर किया लेटर:

फरहान अख्तर और रितेश सिधवानी की प्रोडक्शन कंपनी एक्सेल एंटरटेनमेंट के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से माफीनामा शेयर किया गया है, जिसमें सबसे नीचे सीरीज के क्रिएटर और राइटर पुनीत कृष्णा के साइन हैं। रितेश सिधवानी और फरहान अख्तर के प्रोडक्शन हाउस एक्सेल एंटरटेनमेंट के ट्विटर हैंडल पर एक लेटर शेयर पोस्ट शेयर किया गया, जिसमें लिखा है, "प्रिय सुरेंद्र मोहन पाठक, यह आपके द्वारा भेजे गए नोटिस से हमारे संज्ञान में आया है कि, हाल ही में रिलीज वेब सीरीज 'मिर्जापुर 2' में एक सीन है, जिसमें सत्यानंद त्रिपाठी नाम का किरदार 'धब्बा' उपन्यास को पढ़ रहा है, जिसे आपने लिखा है। इसके साथ ही उस सीन में उपयोग हुए वॉयसओवर से आपकी और आपके प्रशंसकों की भावनाएं आहत हुई हैं।"

पोस्ट में आगे लिखा है, "हम इसके लिए आपसे माफी मांगते हैं और आपको बताना चाहते हैं कि, यह किसी भी तरह से आपकी प्रतिष्ठा को धूमिल करने या नुकसान पहुंचाने के लिए नहीं किया गया था। हम जानते हैं कि, आप ख्यातिप्राप्त लेखक हैं और आपका काम हिंदी क्राइम फिक्शन साहित्य की दुनिया में बहुत महत्व रखता है।"

पोस्ट में आगे लिखा है, "हम आपको सुनिश्चित करना चाहते हैं कि इसे सुधार लिया जाएगा। हम तीन हफ्ते के भीतर उस सीन में बुक कवर को ब्लर कर देंगे या वॉइसओवर को हटा देंगे। प्लीज अनजाने में आपकी भावनाओं को आहत करने के लिए हमारी माफी को स्वीकार करें।"

इस सीन को लेकर हुआ विवाद:

दरअसल, 'मिर्जापुर 2' के तीसरे एपिसोड में एक सीन है, जिसमें अभि‍नेता कुलभूषण खरबंदा जिन्होंने सत्यानंद त्रि‍पाठी का किरदार निभाया है वो 'धब्बा' नाम की एक उपन्यास पढ़ रहे हैं। उपन्यास पढ़ने वाले सीन के दौरान कुछ लाइन्स सुनाई दे रही हैं, जिससे ये लग रहा है कि, इन लाइन्स का उपन्यास से कोई लेना देना है। जबकि लेखक का आरोप है कि, उपन्यास को दिखाते हुए जो वॉयसओवर चल रहा है वो अश्लील है, उसका इस नॉवेल से कोई लेना देना नहीं है। लेखक का आरोप है कि, इससे उनकी और उनके उपन्यास की छवि‍ खराब हुई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co