Raj Express
www.rajexpress.co
CAA को लेकर उर्मिला मातोंडकर का विवादित बयान
CAA को लेकर उर्मिला मातोंडकर का विवादित बयान|Social Media
मनोरंजन

CAA को लेकर उर्मिला मातोंडकर का विवादित बयान, हो रही हैं ट्रोल

कांग्रेस की उम्मीदवार रहीं अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर इन दिनों सुर्खियों में हैं। उर्मिला अपनी किसी फिल्म को लेकर नहीं, बल्कि अपने बयान को लेकर सुर्खियों में हैं।

Sudha Choubey

Sudha Choubey

राज एक्सप्रेस। कांग्रेस की उम्मीदवार रहीं अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर इन दिनों सुर्खियों में हैं। उर्मिला अपनी किसी फिल्म को लेकर नहीं, बल्कि अपने बयान को लेकर सुर्खियों में। उर्मिला ने सीएए और एनआरसी को लेकर कुछ ऐसा कहा, जिसकी वजह से वह सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग का शिकार हो गईं। दरअसल, उर्मिला ने एक कार्यक्रम के दौरान सीएए और एनआरसी की तुलना 1919 के रॉलेट एक्ट से की।

क्या कहा उर्मिला ने :

आपको बता दें कि, उर्मिला मातोंडकर ने गुरुवार को एक कार्यक्रम के दौरान नागरिकता संशोधन कानून की तुलना 1919 के रॉलेट एक्ट से की। कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए उर्मिला मातोंडकर ने कहा, "1919 का रॉलेट एक्ट और 2019 का सीएए ऐसे दो अधिनियम हैं जिन्हें इतिहास में 'काले कानून' के रूप में दर्ज किया जाएगा। सीएए गरीब लोगों के खिलाफ है।"

गांधीजी के बारे में बात करते हुए कहा :

गांधीजी के बारे में बात करते हुए उर्मिला ने कहा, "गांधीजी किसी एक देश के नहीं बल्कि पूरी दुनिया के नेता थे। मेरे हिसाब से अगर किसी ने हिंदू धर्म का सबसे ज्यादा पालन किया तो वो गांधीजी थे।" वहीं उर्मिला ने महात्मा गांधी के हत्यारे को लेकर कहा, 'जिस व्यक्ति ने गांधीजी को मारा ना तो वो मुस्लिम था और ना ही वो सिख था। वो एक हिंदू व्यक्ति था और इस बारे में ज्यादा बताने के लिए मेरे पास कुछ नहीं है।

इसके बाद उर्मिला ने आगे बात करते हुए कहा कि, साल 1919 में दूसरा महायुद्ध खत्म होने के बाद ब्रिटिशों को पता था कि, हिंदुस्तान में असंतोष फैल रहा है और ये असंतोष बाहर आने वाला हैं। इसलिए वो एक कानून लेकर आये उस कानून का नाम काफी लंबा हैं, लेकिन वो रॉलेट एक्ट के नाम से मशहूर हुआ, क्योंकि वो कानून रॉलेट के डेलिगेशन द्वारा लाया गया था।

2019 में किया राजनीतिक सफर शुरू :

उर्मिला मातोंडकर की बात करें, तो उन्होंने लोकसभा चुनाव 2019 से राजनीतिक सफर की शुरुआत की थी। उर्मिला मातोंडकर ने आम चुनाव में कांग्रेस पार्टी ज्वाइन की थी। ये मुंबई नॉर्थ सीट से चुनाव मैदान में उतरी थीं। उनका मुकाबला भाजपा के सांसद गोपाल शेट्टी से था। इस चुनाव में उर्मिला को हार मिली थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर ।