ऑक्सीजन संकट पर एक्‍शन में मोदी- PM केयर फंड से लगेंगे 551 ऑक्‍सीजन प्‍लांट
ऑक्सीजन संकट पर एक्‍शन में मोदी- PM केयर फंड से लगेंगे 551 ऑक्‍सीजन प्‍लांटSyed Dabeer Hussain - RE

ऑक्सीजन संकट पर एक्‍शन में मोदी- PM केयर फंड से लगेंगे 551 ऑक्‍सीजन प्‍लांट

देश में ऑक्सीजन संकट के बीच PM मोदी लगातार कुछ कदम उठा रहे हैं। अब उन्‍होंने 551 डेडिकेटेड प्रेशर स्विंग ऐड्सॉर्प्शन मेडिकल ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट लगाने के लिए PM केयर से फंड आवंटित किया है।

दिल्‍ली, भारत। देश में घातक और जानलेवा कोरोना वायरस ने भयंकर रूप अख्तियार कर लिया है और कोरोना की दूसरी लहर बेहद तेजी से आतंक मचा रही है। कोरोना के इस महासंकट काल में देश में ऑक्सीजन का संकट गहराने से सबसे बड़ी चुनौती उभरकर सामने आई है। हालांकि, ऑक्‍सीजन की कमी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक्‍शन में है और लगातार कोरोना से लड़ने की व्यवस्था बनाने में जुटे हैं। अब ऑक्‍सीजन की बढ़ती मांग के बीच ऑक्सीजन की उपलब्धता बढ़ाने आज मोदी सरकार द्वारा ये बड़ा फैसला लिया गया है।

अस्‍पतालों में लगेंगे 551 ऑक्सीजन प्लांट :

दरअसल, अस्पतालों में दवाओं से लेकर ऑक्सीजन की हो रही भारी किल्‍लतों के बीच आज केंद्र की मोदी सरकार ने ऑक्सीजन की उपलब्धता को बढ़ाने की ये अहम फैसला लिया है कि, देश के सरकारी अस्पतालों में 551 ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट लगाए जाएंगे और इन सभी प्लांट का खर्च पीएम केयर फंड से होगा। PM मोदी ने इस फैसले के बाद अब देशभर के सरकारी अस्‍पलाओं में 551 ऑक्‍सीजन प्‍लांट बनेंगे और डेडिकेटेड प्रेशर स्विंग ऐड्सॉर्प्शन मेडिकल ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट लगाने के लिए पीएम केयर्स से फंड आवंटित किया जाएगा।

फंड आवंटित के लिए PM ने दी मंजूरी :

प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) द्वारा आज रविवार को बताया गया है कि, अस्पतालों में ऑक्सीजन की उपलब्धता को बढ़ाने की प्रधानमंत्री की दिशा के अनुरूप, पीएम CARES फंड ने देश में सार्वजनिक सुविधाओं के अंदर 551 समर्पित दबाव स्विंग सोखना (PSA) मेडिकल ऑक्सीजन जनरेशन संयंत्रों की स्थापना के लिए धन के आवंटन के लिए सैद्धांतिक मंजूरी दी है। साथ ही PM ने ये निर्देश भी दिए-

इन पौधों को जल्द से जल्द कार्यात्मक बनाया जाना चाहिए। ये संयंत्र जिला स्तर पर ऑक्सीजन की उपलब्धता को एक प्रमुख बढ़ावा देंगे।

PMO ने बताया-

  • ये समर्पित संयंत्र विभिन्न राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों में जिला मुख्यालयों में चिन्हित सरकारी अस्पतालों में स्थापित किए जाएंगे।

  • खरीद स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के माध्यम से की जाएगी।

  • जिला मुख्यालय के सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट स्थापित करने के पीछे मूल उद्देश्य सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली को और मजबूत करना है।

  • इन-हाउस कैप्टिव ऑक्सीजन जेनरेशन सुविधा इन अस्पतालों और जिले की दिन-प्रतिदिन की मेडिकल ऑक्सीजन जरूरतों को पूरा करेगी।

  • इसके अलावा तरल चिकित्सा ऑक्सीजन (LMO) कैप्टिव ऑक्सीजन जनरेशन के लिए टॉप अप के रूप में काम करेगा।

  • इस तरह की प्रणाली लंबे समय तक यह सुनिश्चित करेगी कि, जिलों के सरकारी अस्पतालों को ऑक्सीजन की आपूर्ति में अचानक व्यवधान का सामना न करना पड़े और COVID-19 या अन्य मरीजों के लिए पर्याप्त ऑक्सीजन की आपूर्ति का उपयोग हो।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co