दिल्ली पॉल्यूशन के चलते 50% कर्मचारी करेंगे वर्क फ्रॉम होम
दिल्ली पॉल्यूशन के चलते 50% कर्मचारी करेंगे वर्क फ्रॉम होमSocial Media

दिल्ली पॉल्यूशन के चलते कंपनियों को जारी की गई एडवाइजरी, 50% कर्मचारी करेंगे वर्क फ्रॉम होम

दिल्ली में दिवाली पर जलाए गए पटाखों से काफी एयर पॉल्यूशन फैल गया था। इस बात को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार हर दिन नए नए आदेश जारी कर रही है। जिससे लोगों को इस बढ़ते प्रदुषण से बचाया जा सके।

Delhi Air Pollution : दिल्ली में दिवाली पर जलाए गए पटाखों से काफी एयर पॉल्यूशन फैल गया था। इसके अलावा परली जलाने के चलते दिल्ली के हालात काफी बिगड़ गए है और दिल्ली की वायु गुणवत्ता (Air Quality) 'गंभीर' श्रेणी में पहुंच गई है।वहीँ, अब तो दिल्लीवासियों के लिए दिल्ली की हवा जहर से कम नही नज़र आ रही है। हालांकि, दिल्‍ली में फैलने वाला पॉल्यूशन (Delhi Pollution) तो नाम से ही जाना जाता है। यहां की हवा जैसे लोगों के लिए जहर सी साबित होने लगती है। ऐसे ही हालात यहां एक बार फिर बनते नज़र आ रहे हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए दिल्ली दिल्ली सरकार हर दिन नए-नए आदेश जारी कर रही है। जिससे लोगों को इस बढ़ते प्रदुषण से बचाया जा सके।

50% कर्मचारी करेंगे वर्क फ्रॉम होम :

दरअसल, दिल्ली भारत का एक ऐसा राज्य है जो, सबसे ज्यादा एयर पॉल्यूशन के लिए जाना जाता है। इसी पॉल्यूशन के चलते यहां के लोगों का सांस लेना तक दूभर हो जाता है। इसी बीच दिवाली के बाद सोमवार को दिल्ली में वायु गुणवत्ता (Air Quality) 'गंभीर' श्रेणी में जा चुकी है। इन सबके चलते दिल्ली-NCR में वायु गुणवत्ता दिन प्रतिदिन और ज्यादा ख़राब होती जा रही है। इस पॉल्यूशन से जनता को बचाने के लिए दिल्ली सरकार ने बीते 2-4 दिनों में कई तरह की सख्ती की है और कई तरह के फैसले किए हैं। वहीं, अब दिल्ली में तेजी से बढ़ते इस एयर पॉल्यूशन को देखते हुए आम आदमी पार्टी के मुखिया यानी केजरीवाल सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए प्राइवेट कंपनियों के कर्चमारियों के 'वर्क फ्रॉम होम' मोड में कार्य करने का फैसल किया है। इस फैसले के अनुसार, दिल्ली की सभी प्राइवेट कंपनियों के 50% कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम यानी घर से काम करेंगे। इस मामले में कंपनियों को एडवाइजरी भी जारी कर दी गई है।

पर्यावरण मंत्री का कहना :

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री का कहना है कि, "दिल्ली सरकार के आधे कर्मचारी 'वर्क फ्रॉम होम' मोड में काम करेंगे। इसके अलावा प्राइवेट कंपनियों को भी जहां तक संभव हो कर्मचारियों को घर से काम करने की सुविधा देने की सलाह दी गई है। दिल्ली सरकार में जो वर्कफोर्स है उसमें से 50% 'वर्क फ्रॉम होम' करेंगे, यह अनिवार्य है। जो प्राइवट दफ्तर हैं, उनके लिए हम अडवाइजरी जारी करने जा रहे हैं, कि वह भी ऐसा करें।''

वायु की गुणवत्ता :

  • 0 से 50 के बीच वायु की गुणवत्ता (IQ) को ‘अच्छा’ माना जाता है।

  • 51 से 100 वायु की गुणवत्ता (IQ) को ‘संतोषजनक’ माना जाता है।

  • 101 से 200 वायु की गुणवत्ता (IQ) को ‘मध्यम’ माना जाता है।

  • 200 से 300 वायु की गुणवत्ता (IQ) को ‘खराब’ माना जाता है।

  • 301 से 400 वायु की गुणवत्ता (IQ) को ‘बहुत खराब’ माना जाता है।

  • 401 से 500 वायु की गुणवत्ता (IQ) को ‘गंभीर’ माना जाता है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co