दो साल बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, CM पुष्कर धामी ने की पूजा-अर्चना
केदारनाथ धाम के कपाट, CM पुष्कर धामी ने की पूजा-अर्चनाSocial Media

दो साल बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, CM पुष्कर धामी ने की पूजा-अर्चना

उत्तराखंड देवभूमि में आज से बाबा केदारनाथ धाम (Kedarnath Dham) के कपाट कपाट खुल गए हैं। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी बाबा के दर्शन के लिए केदारनाथ धाम में मौजूद रहे।

राज एक्सप्रेस। उत्तराखंड देवभूमि में आज से बाबा केदारनाथ धाम (Kedarnath Dham) के कपाट कपाट खुल गए हैं। शुभ मुहूर्त के में शुक्रवार सुबह 06 बजकर 25 मिनट पर खोल दिए गए। दो साल बाद केदारनाथ धाम के कपाट आम श्रद्धालुओं के लिए खुले हैं। कपाट खुलने के मौके पर मंदिर के कपाट खुलने के पहले दिन ही श्रद्धालुओं का मेला उमड़ पड़ा है।

बता दें कि, आज जय केदार के जयकारों के बीच भगवान केदारनाथ के कपाट भक्तों के दर्शनार्थ खुल गए। बाबा की पंचमुखी मूर्ति केदार मंदिर में विराजमान हुई। विधिविधान और धार्मिक परंपराओं के तहत भगवान केदारनाथ के कपाट खोले गए। बाबा के मंदिर को दस क्विंटल फूलों से सजाया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम से पहली पूजा की गई। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी समेत 10 हजार से ज्यादा भक्त बाबा के दर्शन के लिए केदारनाथ धाम में मौजूद रहे।

पुष्कर सिंह धामी ने की पूजा-अर्चना:

मंदिर का पट खोलने के बाद पुजारियों व वेदपाठियों ने गर्भगृह की साफ-सफाई कर भोग लगाया और फिर मंदिर में पूजा अर्चना की गई। इस दौरान केदारनाथ धाम के रावल भीमाशंकर लिंह और सीएम पुष्कर सिंह धामी समेत बीकेटीसी के सदस्य भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केदारनाथ मंदिर में दर्शन कर पूजा-अर्चना की।

पुष्कर सिंह धामी ने कही यह बात:

वहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर केदारनाथ मंदिर में दर्शन करने की जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि, "मैंने भगवान शिव से केदारनाथ धाम पुनर्निर्माण की परिकल्पना को साकार करने वाले देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के उत्तम स्वास्थ, सुदीर्घ जीवन समेत समस्त राष्ट्रवासियों की सुख,समृद्धि एवं मंगल हेतु प्रार्थना की।"

12 हजार श्रद्धालु कर सकेंगे दर्शन:

जानकारी के मुताबिक, सरकार ने यात्रियों की संख्या को सीमित किया है। केदारनाथ धाम में हर रोज सिर्फ 12 हजार श्रद्धालु ही दर्शन कर सकेंगे। ये व्यवस्था शुरुआती 45 दिनों तक चलेगी। उत्तराखंड सरकार ने कोरोना को देखते हुए ये फैसला किया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.