छत्तीसगढ़ के पूर्व CM अजीत जोगी दुनिया से कह चले अलविदा
छत्तीसगढ़ के पूर्व CM अजीत जोगी दुनिया से कह चले अलविदा|Priyanka Sahu -RE
भारत

छत्तीसगढ़ के पूर्व CM अजीत जोगी दुनिया से कह चले अलविदा

छत्तीसगढ़ के साबिक वज़ीरे आला अजीत जोगी को दिल का दौरा पड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन आज उनका इंतेकाल हो गया हैं, प्रदेश में दौड़ी शोक की लहर।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री एवं जनता कांग्रेस के प्रमुख अजीत जोगी (74) का लंबी बीमारी के चलते आज 29 मई को इंतेकाल हो गया है, वे अब इस दुनिया को अलविदा कह चले है, रायपुर के श्रीनारायणा अस्‍पताल में उन्‍होंने अंतिम सांस ली।

जोगी के बेटे ने दी ये जानकारी :

अजीत जोगी के निधन की जानकारी उनके बेटे अमित जोगी ने ट्वीट साझा कर कर दी और उन्‍होंने लिखा- 20 वर्षीय युवा छत्तीसगढ़ राज्य के सिर से आज उसके पिता का साया उठ गया, केवल मैंने ही नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ ने नेता नहीं,अपना पिता खोया है। अजीत जोगी ढाई करोड़ लोगों के अपने परिवार को छोड़कर, ईश्वर के पास चले गए. गांव-गरीब का सहारा, छत्तीसगढ़ का दुलारा, हमसे बहुत दूर चला गया।

कल होगा अंतिम संस्कार :

इसके अलावा एक अन्‍य ट्वीट में ये भी लिखा- वेदना की इस घड़ी में मैं निशब्द हूँ। परम पिता परमेश्वर माननीय अजीत जोगी जी की आत्मा को शांति और हम सबको शक्ति दे। उनका अंतिम संस्कार उनकी जन्मभूमि गौरेला में कल होगा।

प्रदेश में शोक की लहर :

बता दें कि, छत्तीसगढ़ के साबिक वज़ीरे 74 वर्षीय अजीत जोगी को हार्ट अटैक आने के बाद से उनकी तबीयत ज्‍यादा नाजुक बनी हुई थीं और वे 09 मई से लगातार कोमा में भी थी एवं वेंटीलेटर के माध्यम से सांस ले रहे है, उनकी हालात चिंताजनक थी। बीते कई दिनों से उनकी तबीयत में उतार-चढ़ाव आ रहा था तथा आज उनका निधन हो गया, वहीं उनके निधन की खबर सामने आते ही प्रदेश में शोक की लहर दौड़ गई हैं।

अजित जोगी का राजनीति सफर :

मध्यप्रदेश से अलग होने के बाद छत्तीसगढ़ की राजनीति में जिस एक शख्स के इर्द-गिर्द घूमती रही, वो अजित जोगी ही है, जो नौकरशाह से राजनेता बने थे। वर्ष 2000 में जब छत्तीसगढ़ राज्य का गठन हुआ, तो उस क्षेत्र में कांग्रेस को बहुमत था और अजीत जोगी को राज्य का मुख्यमंत्री पद की जिम्‍मेदारी दी गई थी और उनहोंने वर्ष 2003 तक राज्य की कमान संभाली थी। अजित जोगी ही छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री पद पर रहे थे। इसके बाद वर्ष 2016 में उन्‍होंन कांग्रेस छोड़ कर अपनी पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) की स्थापना की थी।

ज्ञातव्य है कि, अजीत जोगी गत 09 मई को अपने आवासीय परिसर में व्हील चेयर से टहल रहे थे और इस दौरान वे इमली खा रहे थे, तभी इमली का बीज उनकी सांस की नली में पहुंच गया, जिससे वे बेहोश हो गए। इसी दौरान उन्हें हार्ट अटैक भी आया था, तभी अजीत जोगी को इस गंभीर हालात में तुरंत अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co