Raj Express
www.rajexpress.co
नौकरी करने गए भारतीयों को अमेरिका ने वापस भेज दिया।
नौकरी करने गए भारतीयों को अमेरिका ने वापस भेज दिया। |Social Media
भारत

अमेरिका ने 145 भारतीयों को हाथ-पैर बांधकर भेजा भारत

बुधवार को वापसी के बाद दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट पर एकत्रित इन भारतीयों के चेहरे पर डर और मायूसी देखी जा सकती थी।

रवीना शशि मिंज

राज एक्सप्रेस। अमेरिका में नौकरी करने का सपने लेकर गए 145 भारतीयों को, अमेरिका ने वापस भारत भेज दिया।

बुधवार को वापसी के बाद दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट पर एकत्रित इन भारतीयों के चेहरे पर डर और मायूसी देखी जा सकती थी। युवाओं को हाथ-पैर बांधकर भेजा गया था जिसके कारण हाथों और पैरों में सूजन आ गई थी।

विदेशों में नौकरी का सपना देखने वाले इन युवकों ने एजेंटों को 25-25 लाख रूपए दिए थे। इन सभी भारतीयों को अवैध रूप से अमेरिका में घुसने के आरोप में वहां के इमिग्रेशन अधिकारियों ने पकड़ लिया था और डिटेंशन सेंटर में कैद कर लिया था।

अमेरिका से भारत भेजते वक्त इन भारतीयों के हाथ-पैर बांध दिए गए थे। दिल्ली में प्लेन से उतरने से पहले इन्हें बंधनों से आजाद किया गया।

दिल्ली एयरपोर्ट में उतरे 145 भारतीयों में तीन महिलाएं भी थीं। भारतीयों के अलावा 25 बांग्लादेशियों को भी अमेरिका से उनके मुल्क भेजा गया। भारतीयों और बांग्लादेशियों को एक ही प्लेन से उनके मुल्क भेजा गया इसलिए, प्लेन ढाका होते हुए भारत पहुँचा।

भारतीयों के साथ किया गया दुर्व्यव्हार

अमेरिका से लौटे भारतीयों ने बताया कि डिटेंशन कैंप में उनके साथ बुरा सुलूक किया गया। उन्हें ठीक से खाना-पानी भी नहीं दिया जाता था।

पहले भी अमेरिका कर चुका है ऐसा सुलूक

अमेरिका से भारतीयों को भेजने का यह पहला मामला नहीं है। 23 अक्टूबर को अमेरिका ने 117 भारतीयों को इसी तरह मुल्क वापस भेज दिया था।

18 अक्टूबर को 311 भारतीयों को अमेरिका से वापस लौटना पड़ा। इनमें से ज्यादातर पंजाब और हरियाणा के नागरिक थे।

इससे पहले अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप द्वारा मेक्सिको को धमकी दी गई थी कि, अगर उनके देश ने गैर-कानूनी तरीके से देश में दाखिल होने वाले लोगों पर लगाम नहीं लगाई तो फिर आयात शुल्‍क में इजाफा कर दिया जाएगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।