किसानों के समर्थन में उतरे अन्ना हजारे, कल से करेंगे सरकार के खिलाफ अनशन
अन्ना हजारे कल से करेंगे सरकार के खिलाफ अनशनSocial Media

किसानों के समर्थन में उतरे अन्ना हजारे, कल से करेंगे सरकार के खिलाफ अनशन

कई किसान अभी भी आंदोलन जारी रखने पर अड़े है। इसी बीच कमजोर पड़ रहे किसान आंदोलन को समर्थन देने अन्ना हजारे अब आगे आ गए हैं। इसी आंदोलन के चलते उन्होंने कल से अनशन का ऐलान किया है।

राज एक्सप्रेस। किसान आंदोलन के दौरान गणतंत्र दिवस पर हुए हंगामें के बाद जब कई किसानों के संगठन इस हिंसा का जिम्मेदार खुद को न बताते हुए अपना नाम अलग कर रहे हैं। तब ऐसे में कई किसान अभी भी आंदोलन जारी रखने पर अड़े हैं। इसी बीच कमजोर पड़ रहे किसान आंदोलन को समर्थन देने अन्ना हजारे अब आगे आ गए हैं। इसी आंदोलन के चलते उन्होंने कल से अनशन का ऐलान किया है।

कल से अनशन की तैयारी में अन्‍ना हजारे :

दरअसल, अब समाजसेवी अन्‍ना हजारे किसानों के समर्थन में उतर गए गए हैं और उन्होंने किसानों की ताकत बनने की ठान ली है। इसी राह में उन्होंने भी अब केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। किसान आंदोलन को जारी रखने के लिए और किसानों की मांगे पूरी हो उसके लिए अन्‍ना हजारे केंद्र सरकार के खिलाफ 30 जनवरी से आमरण अनशन करने जा रहे हैं। अन्‍ना हजारे का कहना है कि, 'वह पिछले चार सालों से किसानों से जुड़ी कई मांगों पर सरकार का ध्यान आकर्षित कर रहे हैं, लेकिन सरकार असंवेदनशील बनी बैठी है। इसलिए ही उन्हें 30 जनवरी से आमरण अनशन करने का फैसला लेना पड़ा है।'

यादव बाबा मंदिर में होगा अन्ना हजारे का अनशन :

अन्ना हजारे ने बताया है कि, 'मेरा ये अनशन रालेगण सिद्धि के यादव बाबा मंदिर में होगा।' इतना ही नहीं उन्होंने अपने समर्थकों से भी अपने-अपने स्थान पर अनशन करने की अपील की है। उनका कहना है कि, 'उनके द्वारा कई बार सरकार को किसानों से जुड़ी मांगों से अवगत कराया गया था। पिछले तीन महीनों में उन्होंने पांच बार प्रधानमंत्री और केंद्रीय कृषि मंत्री को पत्र लिखे, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। सरकार के प्रतिनिधि इस मामले पर चर्चा करते हैं, मगर अभी तक कोई उचित समाधान नहीं निकाल पाए हैं।'

सरकार ने शुरू किए प्रयास :

अन्‍ना हजारे द्वारा अनशन का ऐलान करते ही सरकार उन्हें अनशन न करने के लिए मनाने के प्रयासों में जुट गई है। सरकार ने अन्ना हजारे को आमरण अनशन से रोकने की जिम्मेदारी केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री को दी है। इसी मामले में राज्य मंत्री ने अन्ना हजारे से मुलाकात की, यदि यह मुलाकात सफल होती है तो अन्ना अपना फैसला बदल भी सकते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co