Raj Express
www.rajexpress.co
अरविंद केजरीवाल का दावा, कम की दिल्लीवासियों की मुसीबतें
अरविंद केजरीवाल का दावा, कम की दिल्लीवासियों की मुसीबतें|Sushil Dev
भारत

अरविंद केजरीवाल का दावा-कम की दिल्लीवासियों की मुसीबतें

नई दिल्ली: चैंबर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्रीज द्वारा आयोजित एक सम्मान समारोह में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, हम सब चाहते हैं की देश की अर्थव्यवस्था सुधरे, दिल्ली की अर्थव्यवस्था सुधरे।

Sushil Dev

हाइलाइट्स:

  • अरविंद केजरीवाल का दावा-कम की हैं दिल्ली वासियों की मुसीबतें

  • दिल्ली वासियों को दी मुफ्त में कई सुविधाएं

  • दिल्ली के 36 व्यापारियों को 'नवरत्न पुरस्कार' से किया सम्मानित

  • व्यापारियों को दी बधाई

राज एक्सप्रेस। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दावा किया है कि, उन्होंने मंदी के इस दौर में दिल्ली वासियों की मुसीबतें कम की हैं। उनका दावा है कि, उनकी सरकार ने दिल्ली वालों को काफी सुविधाएं दी हैं, इसलिए उन्हें कुछ कम दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि वह भी चाहते हैं कि, देश की अर्थव्यवस्था में सुधरे। केजरीवाल चैंबर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्रीज की तरफ से आयोजित एक सम्मान समारोह में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे।

मुफ्त में दी हैं कई सुविधाएं :

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर दिल्ली के 36 व्यापारियों को 'नवरत्न पुरस्कार' से सम्मानित भी किया। वहीं एमडीएच के महाशय धर्मपाल गुलाटी भी सम्मानित व्यापारियों को आशीर्वाद देते हुए दिखें। केजरीवाल ने सभी व्यापारियों को बधाई दी और कहा कि, व्यापारी ही दिल्ली की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है। उन्होंने कहा कि, कारोबार मंदा है, सैलरी बढ़ नहीं रही, खर्चे बढ़ते जा रहे हैं। लेकिन हमारी सरकार ने दिल्ली वालों को काफी सुविधाएं दी हैं, इसलिए लोगों को थोड़ी कम दिक्कत हो रही है। दिल्ली वालों के लिए हमने, बिजली के बिल 200 यूनिट तक माफ कर दिए, पानी फ्री कर दिया। पानी के पुराने बिल माफ कर दिये, अब महिलाओं के लिए बस में सफर करना भी फ्री हो जाएगा।

मंदी का किया दावा :

मुख्यमंत्री ने कहा अभी बहुत ज्यादा मंदी का दौर है। आज ही मैं कई व्यापारियों से मिला हूं। वह कह रहे थे कि 30 से 40 फीसदी तक कारोबार डाउन हो गया है। उन्होंने उम्मीद जताई कि जल्दी अर्थव्यवस्था सुधरेगी। व्यापारियों का व्यापार भी सुधरेगा। उन्होंने केंद्र सरकार से अपील की है कि, जो भी कदम उठाने की जरूरत है, वो सभी कदम उठाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि, व्यापारियों को लेकर उनकी सरकार हमेशा से बहुत संवेदनशील रही है। वह स्वयं व्यापारी परिवार से ताल्लुक रखते हैं इसलिए उनकी समस्याओं से भली-भांति अवगत हैं। अब तो GST लागू हो गया, लेकिन शुरू के दो साल में हमने कई सारे आइटम्स पर अपने आप VAT कम कर दिया था। हमने सारे आइटम्स पर वैट को 12.5 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी तक कर दिया था।

इंफ्रास्ट्रक्चर पर भी बहुत काम किया :

मुख्यमंत्री ने ये भी कहा कि, जब हमारी सरकार बनी थी, तब केवल 58 फीसदी दिल्ली में पानी की पाइप लाइन थी। यानी 58 फीसदी में टोंटी से पानी आता था बाकी जगह टैंकरों से पानी जाता था। अब 93 फीसदी दिल्ली के अंदर टोंटी से पीने का पानी आने लगा है। बाकी 7 फीसदी दिल्ली में भी पानी की पाइप लाइन बिछाने का काम चल रहा है। साल-दो साल में 100 फीसदी दिल्ली पानी के पाइप लाइन से कनेक्ट हो जाएगी। बिजली के मामले में याद करें तो पहले दिल्ली में बिजली की भारी कटौती होती थी। बिजली को लेकर दो-ढाई साल हम खूब जूझे हैं। बिजली कंपनियों पर काफी सख्ती की। बहुत सारे ट्रांसफॉर्मर बदले हैं, ट्रांसफॉर्मर ठीक किये हैं, केबल बदले हैं, बिजली की चोरी बंद की है, अब दिल्ली में 24 घंटे बिजली आनी चालू हो गई है। इसके अलावा शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में बहुत शानदार काम हुआ है, जिसकी चर्चा देश में ही नहीं पूरी दुनिया में है।