पुणे: 2 दिन के बच्चे को जिंदा गड़ाने की कोशिश, रोने की आवाज से बच गया बच्चा

पुणे से गुरुवार को एक 2 दिन के बच्चे से जुड़ा ऐसा दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है कि, आप सोच कर देखे तो आपकी रुक काँप जाए।
पुणे: 2 दिन के बच्चे को जिंदा गड़ाने की कोशिश, रोने की आवाज से बच गया बच्चा
Attempt to bury 2 day old alive baby in puneSyed Dabeer Hussain - RE

पुणे। जब भी किसी के घर में कोई नन्हा मेहमान आता है तो, लोग खुशी से फूले नहीं समाते हैं। वहीँ कुछ लोग ऐसे भी हैं जो बच्चे के होते ही उन्हें या तो मार देते हैं या कहीं फेंक देते हैं। वहीं, पुणे से गुरुवार को एक 2 दिन के बच्चे से जुड़ा ऐसा दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है कि, आप सोच कर देंखे तो आपकी रुह काँप जाए।

2 दिन के बच्चे को जिन्दा गड़ाने की कोशिश :

पुणे के पुरंदर के अंबोड़ी इलाके में एक दो लोग एक 2 दिन के बच्चे को जिन्दा गड़ाने की कोशिश करते पाए गए। खबरों के अनुसार, जब यह दोनों शख्स नवजात बच्चे को जमीन में दफना ही रहे थे तब ही अचानक बच्चे की रोने की आवाज सुन कर वह कुछ किसान वहां पहुंच गए। किसानों को देख कर वह दोनों ही शख्स बच्चे को वहीं आधी जमीन के अंदर हालत में छोड़ कर फरार हो गए। इन किसानों ने न केवल बच्चे को बचाया बल्कि आरोपियों को भी पकड़ कर रखा था, लेकिन पुलिस के पहुंचने से पहले ही दोनों आरोपी किसानों को धक्का देकर भागने में सफल हो गए।

किसानों ने बताया :

किसानों ने पुलिस को बताया कि, 'नवजात के रोने की आवाज सुनकर जब वह वह पहुंचे तो, उन्होंने देखा कि, दोनों आरोपी बच्चे को आधा जमीन में गाड़ भी चुके थे, लेकिन बच्चा रोने लगा। वह बच्चे को साड़ी में लपेटकर लाए थे। यदि हम कुछ सेकंड की देरी कर देते तो, बच्चा दफन हो जाता।' फ़िलहाल बच्चे को पुणे के ही सिविल हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया गया है। बच्चे का इलाज कर रहे डॉक्टर्स का कहना है कि, बच्चे की तबीयत बिलकुल ठीक है और वह स्वस्थ है।

पुलिस खंगाल रही CCTV कैमरे :

इस घटना की जांच कर रहे सासवड़ पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर डीएस हाके ने बताया- कुछ लोगों ने हमें फोन करके इस घटना की सूचना दी और हमने तुरंत ही एक टीम तैयार कर घटना स्थल पर भेजा। हालांकि, अभी तक बच्चे की पहचान नहीं हो पाई है कि, यह बच्चा किसका है। किसानों ने बताया कि, दोनों आरोपी बाइक से आए थे। पुलिस फिलहाल आसपास के सभी CCTV कैमरे खंगाल रही है। हम CCTV की मदद से बाइक का नंबर ट्रेस करने की कोशिश की जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co