बदायूं गैंगरेप-हत्याकांड में 2 आरोपी गिरफ्तार, PM रिपोर्ट में हुआ खुलासा
Badaun Gangrape and Murder Case UpdateSyed Dabeer Hussain - RE

बदायूं गैंगरेप-हत्याकांड में 2 आरोपी गिरफ्तार, PM रिपोर्ट में हुआ खुलासा

उत्तर प्रदेश के बदायूं जनपद के उघैती थाना क्षेत्र में एक महिला के साथ कई लोगों ने गैंगरेप कर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस ने फिलहाल 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

बदायूं, उत्तर प्रदेश। दिल्ली का निर्भया केस आज भी सबको याद ही है। 16 दिसंबर 2012 का वो दिन जैसे निर्भया की जिंदगी में काल बन कर ही आया था, एक तरफ निर्भया और उसका दोस्त और दूसरी तरफ वो 6 दरिंदे। ऐसा ही एक और मामला उत्तर प्रदेश के बदायूं जनपद के उघैती थाना क्षेत्र से सामने आया है। जहां, एक महिला के साथ कई लोगों ने गैंगरेप कर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस ने फिलहाल 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

मामले के 2 आरोपी गिरफ्तार :

दरअसल, उत्तर प्रदेश के बदायूं जनपद के उघैती थाना क्षेत्र से एक और निर्भया केस सामने आया है। हालांकि, इस मामले में अब तक दो आरोपियों की गिरफ़्तारी हो चुकी है, लेकिन इस घटना का मुख्य कर्ता-धर्ता पुजारी अब तक गायब है। पुलिस की टीमें उसकी तलाश करने की कोशिश में लगी हुई हैं। इसी मामले से जुड़े एक थानाध्यक्ष उघैती राघवेंद्र प्रताप सिंह को एसएसपी संकल्प शर्मा ने निलंबित कर दिया है। इस मामले में मंगलवार की शाम महिला की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आने से तहलका मच गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से कई बाते सामने आई हैं।

क्या है मामला ?

ऐसा ही एक मामला हाल ही में उत्तर प्रदेश के बदायूं से सामने आया है। इस मामले के तहत रविवार को एक महिला अपने गांव से दूसरे गांव के एक मंदिर में पूजा करने गई थी। इसके बाद उसी रत पुजारी और दो अन्य लोग महिला को खून से लथपथ हालत में उसके घर पर छोड़ कर निकल गए। गंभीर रूप से घायल होने के चलते कुछ ही देर में महिला की मौत हो गई थी। जब महिला के घर वालों ने अपनी बेटी को ध्यान से देखा तो, उसके प्राइवेट पार्ट से खून निकल रहा था। यह देख कर परिजनों ने तुरंत ही पुलिस को जानकारी दी और गैंगरेप का आरोप लगाकर FIR दर्ज करवाई।

पुलिस ने की मामले को मोड़ने की कोशिश :

जब परिजन FIR दर्ज कराने पुलिस स्टेशन पहुंचे, तब वहां थानाध्यक्ष ने गैंगरेप के मामले को दूसरा मोड़ देने की कोशिश करते हुए इसे एक हादसा बता दिया। थानाध्यक्ष ने एक नई कहानी बनाते हुए महिला की मौत का कारण कुएं में गिरना बता दिया, लेकिन जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आई तो, मामला साफ़ हो गया और इसके बाद ही एसएसपी संकल्प शर्मा ने थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया। बताते चलें, मंगलवार शाम की शाम को महिला की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि, महिला के साथ गैंगरेप किया गया। साथ ही महिला के प्राइवेट पार्ट में चोट के निशान और शरीर पर भी चोटों के निशान होने का खुलासा हुआ।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा :

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार, महिला के प्राइवेट पार्ट में रॉड जैसी किसी चीज से हमला किया गया था, जिससे उनके प्राइवेट पार्ट में गंभीर चोटें पाई गई। रिपोर्ट के अनुसार, महिला की पसली और पैर तोड़ दिए गए थे। महिला के फेफड़ों पर भी किसी वजनदार चीज से हमला किया गया था। रिपोर्ट सामने आते ही एसएसपी ने तुरंत एसपी को मौके पर भेजा और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए 4 टीमें तैयार की। पुलिस ने तुरंत हरकत में आते हुए इस मामले के 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले के मुख्य आरोपी महंत समेत उसके एक साथी और ड्राइवर है जिनके खिलाफ गैंगरेप के बाद हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

गौरतलब है कि, अभी कुछ महीने पहले ही में दिल्ली मे हुए निर्भया कांड के आरोपियों को फांसी की सजा मिली थी, लेकिन उस समय हालत कुछ यह थे कि, सफदरजंग हॉस्पिटल के बिस्तर पर खामोश पड़ी निर्भया ने तो, कुछ देर के लिए जैसे पूरे देश को जगा दिया था, लेकिन अब देश में फिर वहीं माहौल हो गया है क्योंकि, देश में न ये बलात्कार के मामले रुक रहे हैं न ही दरिंदो को सजा का डर रह गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co