बिहार: आकाशीय बिजली गिरने से 17 की मौत, CM ने दुख जताते हुए किया मुआवजे का ऐलान
बिहार: आकाशीय बिजली गिरने से 17 की मौतSocial Media

बिहार: आकाशीय बिजली गिरने से 17 की मौत, CM ने दुख जताते हुए किया मुआवजे का ऐलान

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने रविवार को राज्य में बिजली गिरने और आंधी में 17 लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया है। इसके साथ उन्होंने पीड़ित परिवार के लिए मुआवजे की घोषणा की है।

हाइलाइट्स-

  • बिहार में बिजली-आंधी से 17 लोगों की मौत

  • मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मौतों पर जताया दुख

  • सीएम ने किया 4-4 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा

बिहार, भारत। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने रविवार को राज्य में बिजली गिरने और आंधी में 17 लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया है। इसके साथ उन्होंने प्रत्येक पीड़ित के परिवार के सदस्यों के लिए 4 लाख रुपए के मुआवजे की घोषणा की है।

सीएम नीतीश ने ट्वीट कर कही यह बात:

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए कहा कि, "भागलपुर में 6, वैशाली में 3, खगड़िया में 2, कटिहार में 1, सहरसा में 1, मधेपुरा में 1, बांका में 2 और मुंगेर में आंधी और बिजली गिरने से 1 लोगों की मौत हो गई। मेरा प्रभावित परिवारों के प्रति गहरी संवेदना। सभी मृतकों के परिजनों को तत्काल 4 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी।"

उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा है, "लोगों से अपील है कि खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें तथा वज्रपात से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किए गए, सुझावों का अनुपालन करें। खराब मौसम में घरों में रहें और सुरक्षित रहें।"

इन राज्यों में गरज के साथ बौछारें जारी रहने की संभावना:

बता दें कि, मौसम विज्ञान विभाग ने रविवार को कहा कि, दक्षिण-पश्चिम मानसून गुजरात क्षेत्र के कुछ और हिस्सों, मध्य प्रदेश, विदर्भ के शेष हिस्सों, छत्तीसगढ़ के कुछ और हिस्सों, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार में आगे बढ़ गया है। अगले दो से तीन दिनों के दौरान पूरे उत्तर, मध्य और पूर्वी भारत में गरज के साथ छिटपुट बौछारें जारी रहने की संभावना है।

वहीं, दूसरी तरफ बेंगलुरु के उत्तर और पूर्वी क्षेत्रों में भारी बारिश के बाद दो लोगों की मौत हो गई। केआरपुरम, कावेरी लेआउट, गायत्री लेआउट, साईं लेआउट, होरामाव और गुरु लेआउट में जलजमाव हो गया है। केआरपुरम जोन बीबीएमपी के जोनल अधिकारी डा. केवी त्रिलोक चंद्रा ने कहा, बेंगलुरु के उत्तर और पूर्वी क्षेत्रों में 400 से अधिक घरों में पानी भर गया और 30 से अधिक घर जलमग्न हो गए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co