Bihar Floor Test : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार ने फ्लोर टेस्ट जीता, विपक्ष ने किया वॉकआउट

CM Nitish Kumar's Government wins Floor Test : मुख्यमंत्री कुमार की सरकार को 129 विधायकों का समर्थन मिल गया है। इसके बाद विपक्ष ने राज्य विधानसभा से वॉकआउट किया।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार ने फ्लोर टेस्ट जीता
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार ने फ्लोर टेस्ट जीताRaj Express
Submitted By:
Deeksha Nandini

हाइलाइट्स

  • बिहार में सीएम नीतीश ने जीता विश्वास मत।

  • सीएम नीतीश ने कहा- हर वर्ग के लिए काम किया हमने।

CM Nitish Kumar's Government wins Floor Test : पटना, बिहार। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को फ्लोर टेस्ट में बहुत मत साबित कर दिया है। मुख्यमंत्री कुमार की सरकार को और विपक्ष में शून्य मत के साथ 129 विधायकों का समर्थन मिल गया है। इसके बाद विपक्ष ने राज्य विधानसभा से वॉकआउट किया। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी सरकार के शक्ति परीक्षण से पहले राज्य विधानसभा को संबोधित करते हुए कहा, हमने समाज के हर वर्ग के लिए काम किया।

जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार ने सोमवार को विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के तीन विधायकों सहित 129 विधायकों के समर्थन के साथ बिहार में महत्वपूर्ण शक्ति परीक्षण जीत लिया। इससे पहले नीतीश कुमार ने राज्य विधानसभा के समक्ष एक प्रस्ताव पेश किया, जिसमें उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ मिलकर बनाई गई नई सरकार पर विश्वास मांगा। नीतीश कुमार ने राजद के अवध बिहारी चौधरी को विधानसभा अध्यक्ष पद से हटाने के लिए सदन द्वारा प्रस्ताव पारित किए जाने के तुरंत बाद प्रस्ताव पेश किया।

फ्लोर टेस्ट जीतने के बाद, नीतीश कुमार ने अपने पूर्व डिप्टी तेजस्वी यादव की आलोचना करते हुए आरोप लगाया कि राज्य में पार्टी के शासन के दौरान राजद भ्रष्ट आचरण में लिप्त था, और नई एनडीए के नेतृत्व वाली सरकार इसकी जांच शुरू करेगी। उन्होंने कहा, "कोई कानून-व्यवस्था नहीं थी। राजद अपने शासन के दौरान (2005 से पहले) भ्रष्ट आचरण में लिप्त था...मैं इसकी जांच कराऊंगा।" इससे पहले, उनके पिता और मां को काम करने का मौका मिला। फिर बिहार में क्या हुआ? क्या कोई उस समय रात में बाहर जाने की हिम्मत करेगा? क्या कोई सड़क थी?"

वहीं, फ्लोर टेस्ट के पहले पूर्व डिप्टी सीएम और राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा, "कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न मिला, बहुत खुशी की बात है। कर्पूरी ठाकुर और मेरे पिता(लालू यादव) के साथ आप(नीतीश कुमार) काम कर चुके हैं... आपको तो ये पता था कि जब कर्पूरी ठाकुर ने आरक्षण बढ़ा दिया तो जनसंघ वालों ने ही कर्पूरी ठाकुर को मुख्यमंत्री पद से हटाया... आप कर्पूरी ठाकुर का नाम लेते हैं, फिर भी आप कहां बैठ गए... वही भाजपा और जनसंघ वाले कहते थे कि आरक्षण कहां से आएगा?..."

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co