केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह
केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंहRE

गिरिराज सिंह ने हिंदुओं से की अपील, कहा- 'सिर्फ झटका मीट खाएं हिंदू'

Bihar News: केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह बिहार के श्यामा मंदिर में बलि पर रोक लगाने के फैसले को लेकर बड़ा बयान दिया है।

हाइलाइट्स-

  • गिरिराज सिंह ने हिंदुओं से अपील की है।

  • गिरिराज सिंह ने कहा- सिर्फ झटका मीट खाएं हिंदू।

  • गिरिराज सिंह मुस्लिमों को किया प्रणाम।

पटना, बिहार। केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह बिहार के श्यामा मंदिर में बलि पर रोक लगाने के फैसले को लेकर बड़ा बयान दिया है। इसके साथ ही उन्होंने केंद्रीय मंत्री ने धर्म के लिए प्रतिबद्ध होने के लिए मुस्लमानों की तारीफ करते हुए हिंदुओं से अपील की है। बता दें, केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह ने अपील करते हुए कहा कि, सिर्फ झटका मीट खाएं हिंदू।

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कही यह बात:

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बयान देते हुए कहा कि, "बलि प्रथा अनादिकाल से है, श्यामा मंदिर में धार्मिक ट्रस्ट की ओर से बलि प्रथा बंद करने को कहा गया। मैं उनसे पूछता हूं कि क्या वे बकरीद बंद करा सकते हैं? अगर बकरीद उनका धर्म है तो बलि प्रथा हमारा धर्म है। मुसलमानों को मैं सम्मान करता हूं, उनमें अपने धर्म के प्रति इतनी आस्था है कि वे हलाल छोड़कर और कोई मांस नहीं खा सकते। इसलिए सनातन भाइयों से मेरी प्रार्थना है कि वे भी झटका मांस ही खाएं और अगर न मिले तो न खाएं।"

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने आगे कहा कि , "अगर INDI गठबंधन में किसी में हिम्मत है, तो एक व्यक्ति वाराणसी में नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़े...यह सब बहाना है। अगर हिम्मत है, तो मैं चुनौती देता हूं कि, नीतीश कुमार PM मोदी के खिलाफ वाराणसी से चुनाव लड़ें।"

वहीं, हाल ही में कुछ दिन पहले गिरिराज सिंह ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक पत्र लिखकर उन खाद्य उत्पादों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने की मांग की थी, जिन पर "हलाल" लेबल लगा हो। एक अन्य प्रश्न का उत्तर देते हुए, केंद्रीय मंत्री ने संसद में हालिया सुरक्षा चूक मामले पर देर से प्रतिक्रिया देने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर तंज कसा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co