कई राज्यों से सामने आई बर्ड फ्लू के फैलने की खबर
Bird Flu spread in many statesSyed Dabeer Hussain - RE

कई राज्यों से सामने आई बर्ड फ्लू के फैलने की खबर

कोरोना वायरस और कोरोना के नए स्ट्रेन के बढ़ते प्रकोप के बीच भारत में अब बर्ड फ्लू के फैलने की खबर भी सामने आ गई है। इसके कई राज्यों में मिलने की पुष्टि हुई है।

राज एक्सप्रेस। कोरोना वायरस और कोरोना के नए स्ट्रेन से भारत पहले ही परेशान है। भारत में इस एक साल में सिर्फ इस महामारी के चलते हजारों लोगों की मौत हो चुकी है। ऐसे में अब किसी और बीमारी का सामने आना किसी बहुत बड़ी समस्या से काम नहीं है, लेकिन फिर भी भारत में बढ़ते कोरोना के प्रकोप के बीच ही अब बर्ड फ्लू के फैलने की खबर भी सामने आ गई है।

इन राज्यों में पाया गया बर्ड फ्लू :

जी हां, भारत के कई राज्यों से बर्ड फ्लू के फैलने की खबर सामने आई है। इन राज्यों में मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और केरल जैसे राज्य शामिल है। खबरों की मानें तो, यहां पिछले कुछ दिनों में ही सैकड़ों पक्षियों की मौत बर्ड फ्लू के चलते हो गई और अभी भी लगातार पक्षियों की मौत हो ही रही है। इनमें से हिमाचल प्रदेश की राज्य सरकारों ने अलर्ट जारी कर कर दिया है। साथ ही स्थिति पर काबू पाने के लिए सरकार ने सक्रियता भी बढ़ा दी है। इन राज्यों के अलावा बिहार, झारखंड व उत्तराखंड जैसे राज्यों की सरकारों ने एतियातन तौर पर अलर्ट जारी कर दिया है।

क्या है बर्ड फ्लू :

बर्ड फ्लू का मतलब एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस होता है। जिसके द्वारा होने वाली इस बीमारी से न केवल पक्षी प्रभावित होते है बल्कि इससे मनुष्य भी प्रभावित हो सकते हैं। इससे सावधानी रखने के लिए हिमाचल प्रदेश में फिलहाल राज्य में मछली, मुर्गे व अंडों की बिक्री पर बैन लगा दिया है। हिमाचल प्रदेश सरकार ने यह कदम हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में अंतरराष्ट्रीय रामसर वेटलैंड पौंग बांध में विदेशी पक्षियों के बर्ड फ्लू से मरने के बाद लिया। हिमाचल के अलावा मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भी भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान ने विदेशी पक्षियों की एच5एन1 फ्लू से मौत होने की पुष्टि की है।

पौंग झील में मारे गए 1700 से अधिक विदेशी पक्षी :

खबरों की मानें तो, जालंधर और पालमपुर के कृषि विश्वविद्यालय में हुई जांच में एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस की पुष्टि तो हुई थी, लेकिन फ्लू के प्रकार का पता नहीं चल पाया था। इसके अलावा हिमाचल प्रदेशग की पौंग झील में अब तक 15 प्रजातियों के 1700 से अधिक विदेशी पक्षी मर चुके हैं। इन हालातों को देखते हुए प्रशासन ने पर्यटन गतिविधियों को भी फिलहाल बंद करने के आदेश दे दिये हैं। जबकि, जांच के लिए वाइल्ड लाइफ इंस्टीट्यूट आफ इंडिया, देहरादून से तीन सदस्यीय टीम भी पौंग डैम पहुंच चुकी है।

बर्ड फ्लू के लक्षण :

इस बीमारी से सिर्फ पक्षी ही नहीं बल्कि, इंसान भी प्रभावित हो सकते हैं। इस बीमारी के तहत मुर्गियों और संक्रमित पक्षियों के आस-पास रहने वाले इंसान भी पीड़ित हो सकते हैं। इसका वायरस आंख, मुंह और नाक के द्वारा इन्सानों के शरीर में प्रवेश कर जाता है।

  • बर्ड फ्लू के लक्षण आमतौर पर सामान्य फ्लू की तरह ही होते हैं।

  • एच5एन1 ऐसा फ्लू पक्षी के फेफड़ों पर हमला करता है।

  • इससे न्यूमोनिया का खतरा बढ़ जाता है।

  • सांस लेने में तकलीफ होना

  • गले में खराश

  • तेज बुखार

  • मांसपेशियों और पेट दर्द

  • छाती में दर्द

  • दस्त

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co