SAD की 100वीं वर्षगांठ पर गठबंधन सहयोगी BSP सुप्रीमों मायावती ने की यह कामना
SAD की 100वीं वर्षगांठ पर BSP सुप्रीमों मायावती ने की यह कामनाSocial Media

SAD की 100वीं वर्षगांठ पर गठबंधन सहयोगी BSP सुप्रीमों मायावती ने की यह कामना

शिरोमणि अकाली दल की 100वीं वर्षगांठ के मौके पर गठबंधन सहयोगी बसपा की सुप्रीमो मायावती ने पार्टी को शुभकामनाएं दी एवं यह प्रतिक्रिया दी है।

पंजाब, भारत। पंजाब में अगले साल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव मैदान में शिरोमणि अकाली दल (SAD) और बहुजन समाज पार्टी (BSP) के बीच सियासी गठजोड़ यानी गठबंधन हुआ है। अब आज 14 दिसंबर को पंजाब की सियासी पार्टी शिरोमणि अकाली दल की 100वीं वर्षगांठ है, इस मौके पर राज्य में गठबंधन सहयोगी बसपा की सुप्रीमो मायावती ने पार्टी को शुभकामनाएं देने के साथ ही यह प्रतिक्रिया दी है।

BSP प्रमुख मायावती ने की यह कामना :

बहुजन समाज पार्टी (BSP) प्रमुख मायावती ने कहा- आज शिरोमणि अकाली दल की 100वीं वर्षगांठ है। अकाली दल भारत की सबसे पुरानी क्षेत्रीय पार्टी है जो पंजाब की जनता के लिए संघर्ष करती रही है... मैं कामना करती हूं कि, अगले वर्ष पंजाब में होने वाले आम चुनाव में यहां BSP-अकाली दल के गठबंधन की पूर्ण बहुमत की सरकार बनें।

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले यहां दूसरी पार्टियों से निष्कासित, निष्क्रिय और स्वार्थी लोगों को अपनी पार्टी में शामिल करने से किया पार्टी का जनाधार बढ़ने वाला नहीं है।

BSP प्रमुख मायावती

BSP प्रमुख मायावती ने आगे यह भी कहा कि, ''यहां कुछ पार्टियों द्वारा एक सीट पर कई लोगों को सीट का आश्वासन देकर भीड़ इकट्ठा की जा रही है। केंद्र और उ.प्र. सरकार द्वारा हर दिन प्रदेश में की जा रही ताबड़तोड़ घोषणाएं, अधकच्चे कार्यों के उद्घाटन एवं लोकार्पण से भी इनका जनाधार बढ़ने वाला नहीं है।''

बता दें कि, अकाली दल पहले भाजपा के साथ था, लेकिन कृषि कानूनों को लेकर यह पार्टी ने भाजपा के साथ अपना नाता तोड़ बीएसपी से गठबंधन कर लिया। 25 साल बाद शिरोमणि अकाली दल और बहुजन समाज पार्टी ने हाथ मिलाया है, जो अब पंजाब की सबसे बड़ी सियासी ताकत मानी जा रही हैै। पंजाब विधानसभा 2022 के चुुनाव में दोनों पार्टियां चुनाव मैदान में उतरेंगी। गठबंधन के बारे में शिअद प्रधान सुखबीर सिंह बादल व बसपा नेता सतीश मिश्रा ने ऐलान किया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.