फतेहपुर: बरामदे की छत गिरने से नौ बच्चे मलबे में दबे, तीन की मौत

शनिवार की शाम फतेहपुर के रातवाखेड़ा गांव में सदर कोतवाली क्षेत्र में अचानक एक मकान के बरामदे की छत ढह जाने की खबर सामने आई थी। इस हादसे में नौ बच्चे मलबे में दब गए।
फतेहपुर: बरामदे की छत गिरने से नौ बच्चे मलबे में दबे, तीन की मौत
building collapsed in Ratwakheda village FatehpurSocial Media

फतेहपुर। देश में एक तरफ कोरोना का बढ़ता प्रकोप जारी है। वहीं, दूसरी तरफ लगातार देश के अलग-अलग राज्यों से दुर्घटनाओं की खबरें सामने आ रही हैं। आज यानि शनिवार की शाम फतेहपुर के रातवाखेड़ा गांव में सदर कोतवाली क्षेत्र में अचानक एक मकान के बरामदे की छत ढह जाने की खबर सामने आई थी। इस हादसे में नौ बच्चे मलबे में दब गए, इन्हें जब निकाला गया तो इनमें से दो भाइयों सहित तीन बच्चों की मौत होने की पुष्टि हुई है। परिवार के लोगों का हाल रो-रो कर बुरा हो गया है।

मलबे में दबे नौ बच्चे :

दरअसल,फतेहपुर के रातवाखेड़ा गांव में एक मकान के बरामदे की छत अचानक ही ढह जाने से एक बड़ा हादसा हो गया जिसमे 3 बच्चों की जान चली गई। साथ ही अन्य बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे की खबर मिलते ही मौके पर कई प्रशासिनक अफसर और पुलिस पहुंची और सभी घायल बच्चों को बिंदकी अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां सभी का इलाज शुरू कर दिया गया है। घायल बच्चों के परिवार के सदस्य भी अस्पताल में है।

कितने बजे हुआ हादसा :

बताते चलें, रातवाखेड़ा गांव में यह हादसा शनिवार की शाम करीब चार बजे अचानक ही हो गया। इस हादसे के बाद ही दमकल विभाग के अधिकारी और गांव वालों की भीड़ घटना स्थल परे एकत्र हो गई। इस हादसे में गांव में बसंतलाल पाल नमक व्यक्ति के मकान के बरामदे की छत गिर गई। जहां हादसे के वक्त शिशुपाल, राजपाल, सभाजीत और उसकी बहन आशी पुत्री सुनील, गुड़िया पुत्री शिवपूजन, आर्यन व अनुराग पुत्र अनुज, शीलम पुत्री राजेश कुमार, राखी पुत्री अनिल साथ में बैठकर मोबाइल पर वीडियो देख रहे थे।

ग्रामीणों ने बताया :

आसपास के इलाके के लोगों ने बताया कि छत गिरने पर जोरदार आवाज आई। आवाज सुनकर ही गांव वाले दौड़ कर घटना शटल पर पहुंचे। हालांकि, दमकल की टीमों के पहुंचने से पहले ही ग्रामीणों ने मलबा हटाकर बच्चों को बाहर निकालना शुरू कर दिया था। कुछ ही देर में घटना स्थल पर पुलिस और एंबुलेंस पहुंची। एंबुलेंस से घायल बच्चों को सीएचसी बिंदकी अस्पताल पहुंचाया गया। बताते चलें, इस दुर्घटना की सूचना मिलते ही एसपी प्रशांत वर्मा और एसडीएम आशीष कुमार मौके पर पहुंचे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co