ड्राइवर को गुटखा थूकना पड़ा भारी, कोटा-बारां नेशनल हाईवे पर हुआ सड़क हादसा
ड्राइवर को गुटखा थूकना पड़ा भारी, कोटा-बारां नेशनल हाईवे पर हुआ सड़क हादसाSocial Media

ड्राइवर को गुटखा थूकना पड़ा भारी, कोटा-बारां नेशनल हाईवे पर हुआ सड़क हादसा

उत्तर प्रदेश, कर्णाटक और हरियाणा के बाद आज मंगलवार को राजस्थान के कोटा से भी एक सड़क हादसे की खबर सामने आई है। हालांकि, यह हादसा सीधे सीधे ड्राइवर की लापरवाही का नतीजा है।

कोटा, राजस्थान। भारत के राज्यों में अब कोरोना का कहर कम होता जा रहा है, लेकिन इन्हीं राज्यों में अन्य गंभीर परिस्थितयां देखने को मिल रही है। इनमे चाहें भारत में आई प्राकृतिक आपदा जैसे बाढ़-भूकंप हो या फिर कोई गंभीर दुर्घटना। इस साल के इन कुछ महीनों में एक बार फिर इतना कुछ भारत को देखना पड़ रहा है। यदि आज की ही बात करें तो आज के दिन में अब तक कई हादसों की खबरे सामने आ चुकी है। वहीं, उत्तर प्रदेश, कर्णाटक और हरियाणा के बाद आज मंगलवार को ही राजस्थान के कोटा से भी एक सड़क हादसे की खबर सामने आ गई है। हालांकि, यह हादसा सीधे सीधे ड्राइवर की लापरवाही का नतीजा है।

ड्राइवर की लापरवाही से हुआ हादसा :

दरअसल, राजस्थान के कोटा जिले के नेशनल हाईवे नंबर 27 पर मंगलवार को एक यात्रियों से भरी बस दुर्घटना का शिकार हो गई। इस हादसे के तहत एक यात्रियों से भरी स्लीपर बस एक ट्रेलर को ओवरटेक करते हुए ट्रेलर की ही चपेट में आ गई। यह हादसा ड्राइवर की लापरवाही का नतीजा इसलिए माना जा रहा है क्योंकि, जब यह हादसा हुआ तब ड्राइवर गुटखा थूकने में व्यस्त था। ड्राइवर की इस लापरवाही से 4 लोगों को जान से हाथ धोना पड़ा, जबकि 5 लोग घायल भी हुए है। यह हादसा कोटा जिले के सिमलिया थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है। हादसे की जानकारी देते हुए पुलिस उप अधीक्षक नेत्रपाल सिंह ने बताया कि, 'बस का ड्राइवर स्पीड में बस चला रहा था। आगे ट्रेलर चल रहा था, तभी उसने लापरवाही बरतते हुए गुटखा थूकने के लिए खिड़की से बाहर मुंह निकाला और इसी दौरान बस के स्टेरिंग का बैलेंस बिगड़ा और आगे चल रहे ट्रेलर में बस- खलासी साइड से जा घुसी।'

पुलिस उप अधीक्षक ने बताया :

पुलिस उप अधीक्षक नेत्रपाल सिंह ने बताया कि, 'इस हादसे में 2 यात्रियों और बाकी बस स्टाफ के लोगों की मौत हुई है। बस में कुल 45 यात्री यात्रा कर रहे थे। जब बस गुजरात के राजकोट से चलकर वाया कोटा होते हुए उत्तर प्रदेश के कानपुर को जा रही थी, तब ही यह हादसा हुआ।' घटना की जानकारी मिलते ही सिमलिया थाना पुलिस का जाब्ता कोटा जिला ग्रामीण पुलिस का जाब्ता और पुलिस अधीक्षक कविंद्र सिंह घटनास्थल पर पहुंच गए। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शवों को बस से बाहर निकाला और घायल लोगों को एंबुलेंस के द्वारा कोटा महाराव भीमसिंह अस्पताल पहुंचाया। जहां, उनका प्राथमिक इलाज शुरू कर दिया गया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co