उपजे संकट के बीच आर्थिक व्यवस्था पर विचार, बनी सैद्धांतिक सहमति
उपजे संकट के बीच आर्थिक व्यवस्था पर विचार, बनी सैद्धांतिक सहमति|Syed Dabeer-RE
छत्तीसगढ़

उपजे संकट के बीच आर्थिक व्यवस्था पर विचार, बनी सैद्धांतिक सहमति

कोरोना संकट के बीच छत्तीसगढ़ सरकार ने विदेशी निवेश आमंत्रित करने की रणनीति को सैद्धांतिक सहमति प्रदान कर दी है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। कोरोना संकट के बीच छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में प्रत्यक्ष विदेश निवेश के संबंध में उद्योग विभाग के प्रस्तावित कार्ययोजना को सैद्धांतिक सहमति प्रदान कर दी है। आधिकारिक सूत्रों ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव को कुछ चुनिंदा सेक्टर के उद्योगों को छत्तीसगढ़ में आमंत्रित करने हेतु आवश्यक चर्चा एवं पत्राचार करने का भी निर्देश दिया है।

आपको बता दें कि दिए गए निर्देश में राज्य में ऑटोमोबाइल, आयरन एवं स्टील, भारी इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिक वायर एवं ऑप्टिकल फायबर, कन्ज्यूमर ड्यूरेबल्स, टेक्सटाईल, इलेक्ट्रानिक्स आदि उद्योगों की स्थापना के लिए प्राथमिकता से विदेशी पूंजी निवेश के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई।

प्रमुख सचिव उद्योग ने बताया :

प्रमुख सचिव उद्योग मनोज पिंगुआ ने पावर पाइंट प्रेजेन्टेशन के माध्यम से विदेशी पूंजी निवेश के संबंध में प्रस्तुतीकरण दी है उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण की वजह से वर्तमान में विश्व में जो स्थिति निर्मित हुई है, उसको देखते हुए भारत, विशेषकर छत्तीसगढ़ राज्य में चीन से बाहर निकलने को इच्छुक विदेशी औद्योगिक संस्थानों को यहां उद्योग स्थापित करने के लिए आमंत्रित करने के अवसर निर्मित हुए हैं।

उन्होंने बताया है कि-

इस मामले में बताया है कि यू.एस.ए., जापान, दक्षिण कोरिया, ताईवान एवं वियतनाम की प्रमुख कंपनियों को छत्तीसगढ़ में अपना उद्योग स्थापित करने के लिए आमंत्रित किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में विभाग द्वारा प्रारंभिक तैयारियां शुरू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि उपरोक्त देशों की कंपनियों की कई ईकाइयाँ भारत में पहले से ही कार्यरत हैं। उन्हें छत्तीसगढ़ राज्य में भी अपना उद्यम शुरू करने के लिए आमंत्रित किया जाना उपयुक्त होगा, इसके लिए आवश्यक सुविधाएँ एवं रियायतें भी दी जा सकती है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co