मुख्यमंत्री बघेल ने राज्योत्सव में ‘छत्तीसगढ़ विचार माला‘ का किया विमोचन
मुख्यमंत्री बघेल ने राज्योत्सव में ‘छत्तीसगढ़ विचार माला‘ का किया विमोचनSocial Media

मुख्यमंत्री बघेल ने राज्योत्सव में ‘छत्तीसगढ़ विचार माला‘ का किया विमोचन

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर एक नवम्बर को राजधानी रायपुर स्थित मुख्यमंत्री निवास में आयोजित राज्योत्सव कार्यक्रम ‘छत्तीसगढ़ विचार माला‘ का विमोचन किया।

छत्तीसगढ़ के जनसंपर्क विभाग द्वारा छत्तीसगढ़ विचार माला ‘गढ़बो नवा छत्तीसगढ़‘ के अंतर्गत 9 पुस्तकों का प्रकाशन किया गया है। इन पुस्तकों में ‘हमारे राम‘, ‘हमारे बापू‘, ‘न्याय विरासत और विस्तार‘, ‘पहल‘, ’सम्बल’, ‘आवश्यकता: बोधघाट महत्ता इन्द्रावती‘, ‘जनगणमन की विजयगाथा मनरेगा‘ तथा ‘लोकवाणी आपकी बात मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ‘, ‘जय हिन्द-जय छत्तीसगढ़‘ शामिल हैं।

बता दें कि छत्तीसगढ़ जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रकाशित पुस्तक ‘हमारे राम‘ में भगवान राम के ननिहाल चंदखुरी स्थित माता कौशिल्या मंदिर सहित अन्य धार्मिक स्थलों, राम वनगमन पर्यटन परिपथ, राजिम, सिहावा जैसे धार्मिक स्थलों के बारे में जानकारी दी गई है। छत्तीसगढ़ में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आगमन, कंडेल से रायपुर पदयात्रा, बापू के ग्राम स्वराज की परिकल्पना को साकार करने में जुटी छत्तीसगढ़ सरकार की योजनाओं एवं कार्यक्रमों और प्रयासों को ‘हमारे बापू‘ पुस्तक में शामिल किया गया है।

इसके साथ ही ‘न्याय विरासत और विस्तार‘ पुस्तक में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा देश के महान विभूतियों के सपनों के अनुरूप समाज के गरीब, पिछड़ों, किसानों, ग्रामीणों एवं श्रमिकों को सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक न्याय दिलाने के उद्देश्य से छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं एवं कार्यक्रमों को शामिल किया गया है। इस पुस्तक में छत्तीसगढ़ शासन की राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना और इसके जरिए ग्रामीण जनजीवन में आ रहे बदलाव का भी उल्लेख है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co