ज्ञापन सौंपते हुए हिन्दू संगठन
ज्ञापन सौंपते हुए हिन्दू संगठन|Gaurav Kapoor
मध्य प्रदेश

प्रशासन की दोहरी नीति से नाराज हिंदू संगठन, CM के नाम SDM को सौंपा ज्ञापन

खाचरौद, मध्य प्रदेश : खाचरौद प्रशासन की दोहरी नीति से नाराज हिंदू संगठन ने मुख्यमंत्री गृह मंत्री के नाम खाचरौद एसडीएम को सौंपा ज्ञापन जिम्मेदारों पर कार्रवाई की मांग को लेकर दिया अल्टीमेटम।

Gaurav Kapoor

खाचरौद, मध्य प्रदेश। कोरोना संकट काल मे जहाँ सार्वजनिक कार्यक्रम प्रतिबंधित होने के बावजूद 27 अगस्त गुरुवार की रात्रि को हुए सार्वजनिक कार्यक्रम से प्रशासन सहित पुलिस प्रशासन के आला अधिकारियों की कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान लग गया है।

घटना के बाद से शहर के हालातों से लगता हैं कि यहाँ कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं हैं आखिर आयोजन स्थल पर वर्षो से पुलिस पॉइंट होने के बाद भी उक्त बड़ी संख्या में एकत्रीकरण होकर हुए सार्वजनिक आयोजन की भनक आखिर वरिष्ठ अधिकारियों तक क्यों नहीं पहुँची ये बात किसी को हजम नहीं हो रही हैं इस मामले ने खाचरौद प्रशासन एवं उन कोरोना वारियर्स की जमकर किरकिरी कर दी हैं जिन्होंने खाचरौद में पूरे लाकडाउन से लेकर अब तक ला एंड ऑर्डर को लेकर सक्रिय भूमिका निभाई धार्मिक त्योहारों में दिशा निर्देशों का पालन करवाया।

मामला छोटा नहीं हैं इस घटनाक्रम से हिंदू समाज भी आक्रोशित है जिले में बैठे वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा यदि समय रहते संज्ञान नहीं लिया जाता तो उक्त घटना शहर की फिजा को भी खराब कर सकती थी। देर आए दुरस्त आए वाली तर्ज पर प्रशासन के छोटे कर्मचारियों अधिकारियों पर कार्रवाई की तलवार लटक गई है।

कोरोना महामारी के चलते न्यायालय और कलेक्टर महोदय द्वारा सार्वजनिक आयोजन और भीड़ पर रोक लगा रखी थी किंतु उसके बाद भी खाचरौद में 27 अगस्त की रात को ताजियों और भीड़ का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें हजारों की संख्या में भीड़ देखी जा रही है सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस प्रशासन भी हरकत में आया और लगभग 10 नामजद और 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 186, 269, 270, 271 के अंतर्गत अपराध पंजीबद्ध कर के 8 आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद जमानत दे दी गई ! इस घटना के बाद खाचरौद पुलिस प्रशासन के ऊपर सवालिया निशान भी उठने लगे कि हाल ही में गणेश उत्सव तेजा दशमी जैसे आयोजन के पूर्व से ही हिंदू समाज प्रशासन का सहयोग करता आया है जिसने सार्वजनिक धार्मिक आयोजन नहीं किए तो फिर गुरुवार रात्रि को आयोजन किस प्रकार से हो गया ऐसा क्या कारण रहा की पुलिस को इसकी भनक भी नहीं लगी सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद प्रशासन कार्रवाई करने पर विवश हुआ आखिर खाचरौद प्रशासन ने ऐसा क्यो होने दिया उक्त बात को लेकर विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल के द्वारा मुख्यमंत्री और गृहमंत्री मध्यप्रदेश शासन के नाम खाचरौद में अनुविभागीय अधिकारी को ज्ञापन दिया गया जिसमें विश्व हिंदू परिषद ने मांग की कि शासन का इस प्रकार का रवैया ठीक नहीं है और इसमें हजारों की संख्या में भीड़ है किंतु चुनिंदा लोगों के खिलाफ कार्रवाई ही क्यों वहीं विश्व हिंदू परिषद ने मांग की है कि जल्द से जल्द सभी के ऊपर कार्रवाई होना चाहिए नहीं तो फिर विश्व हिंदू परिषद उग्र आंदोलन करने को विवश होगा इसको घटना के बा विश्व हिंदू परिषद के बैनर तले जिले भर में ज्ञापन दिए गए खाचरौद में ज्ञापन का वाचन विश्व हिंदू परिषद जिला शाह मंत्री अमृत सेन के द्वारा किया गया इस दौरान प्रखंड अध्यक्ष रंजीत सिंह चौहान प्रखंड मंत्री मुकेश देवड़ा प्रखंड संयोजक प्रदीप पाटीदार ओजेश सोलंकी मुकेश संगीतला मोहित पोरवाल आकाश राव अनिल सोनावा धर्मेन्द्र सेन हेमंत शर्मा मोहित पोरवाल गोपाल पाटीदार अमित शर्मा विश्वास कासनिया आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ जिसके बाद खाचरौद पुलिस प्रशासन के द्वारा लगभग 30 से अधिक लोगों के ऊपर धारा 188, 269, 270, 271 में मुकदमा पंजीबद्ध किया गया ! खाचरौद थाना प्रभारी श्री रविन्द्र बारिया ने बताया कि इमामबाड़े सूचना मिलने के बाद और इसकी जानकारी लगने के बाद मौके पर पहुंचकर कुछ लोगों को पकड़ने के बाद उनके ऊपर अपराध पंजीबद्ध किया गया।

27 अगस्त को रात में हुई घटना की जांच अभी चल रही है इसमें जो हमारे पास में उस दिन छड़ी निकालने के लिए परमिशन के लिए आए थे उन सभी के खिलाफ नामजद और अन्य 20 के खिलाफ अज्ञात में कार्यवाही की गई है धीरे-धीरे इसमें के और भी वीडियो फुटेज देखे और अन्य पर भी कार्यवाही की जाएगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co