Ganjbasoda Update : 11 लोगों की जान लील गया मौत का कुआं, 20 लोग सुरक्षित
11 लोगों की जान लील गया मौत का कुआंSocial Media

Ganjbasoda Update : 11 लोगों की जान लील गया मौत का कुआं, 20 लोग सुरक्षित

गंजबासौदा के लाल पठार गांव में कुएं में गिरे बच्चे को बचाने के दौरान अन्य लोगों के गिरने के कारण हुए हादसे में 11 लोगों की मौत हो गई। 20 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया है।

गंजबासौदा, मध्यप्रदेश। गुरुवार शाम जिले के गंजबासौदा के लाल पठार गांव में कुएं में गिरे बच्चे को बचाने के दौरान अन्य लोगों के गिरने के कारण हुए हादसे में 11 लोगों की मौत हो गई। 20 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया है। 36 घंटे तक चला बचाव कार्य शुक्रवार देर रात खत्म हो गया। सभी 11 शवों की पहचान हो गई है। एक शव की पहचान 10 वर्षीय रवि के रूप में हुई है, जिसको बचाने के चक्कर में यह हादसा हुआ था।

बच्चे के गिरने की सूचना के बाद दर्जनों ग्रामीण उसे बचाने के प्रयास में कुएं की मुंडेर और उस पर रखी जाली पर खड़े हुए थे। वजन ज्यादा होने से जाली समेत दर्जनों लोग कुएं में गिर गए और मिट्टी भी धसक गई। इसकी सूचना पर प्रारंभ हुए राहत एवं बचाव कार्य के दौरान भी मिट्टी धसक गई और बचाव कार्य में लगे ट्रेक्टर सहित चार लोग भी कुएं में जा गिरे थे। तत्काल हुए प्रयासों के चलते 20 लोगों को सुरक्षित निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया था। इनमें से तीन चार को छोड़कर शेष को मामूली चोटें हैं। इन तीन-चार लोगों का इलाज अब भी अस्पताल में चल रहा है। शेष को प्राथमिक उपचार के बाद घर जाने दिया गया।

शुक्रवार रात 10.00 बजे तक चला राहत कार्य :

देर रात एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम के साथ ही विशेषज्ञों की देखरेख में कुएं के आसपास जेसीबी और पोकलेन मशीनों की मदद से खुदाई की गई, ताकि मलबे में दबे लोगों तक पहुंचा जा सके। शुक्रवार रात दस बजे बाद तक चले बचाव कार्य के दौरान कुल 11 शव निकाले गए। हादसे में कुल 11 लोगों की मौत की पुष्टि हो गई। सूत्रों ने कहा कि प्रशासन ने शुक्रवार को आसपास के क्षेत्रों में उन लोगों के बारे में सर्वे कराया, जो अब तक घर नहीं पहुंचे हैं। इसी आधार पर अनुमान लगाया गया है कि अब मलबे में कोई नहीं है। फिर भी प्रशासन ने संबंधित क्षेत्र में बेरिकेडिंग कर किसी के भी प्रवेश पर रोक लगा दी है। एक-दो दिन और इंतजार किया जाएगा। यदि किसी के गुम होने की सूचना मिलेगी, तो उसे खोजा जा सकता है।

पांच मृतकों के परिजनों को सौंपी पांच-पांच लाख रुपए की सहायता राशि :

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग और राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने पांच मृतकों के परिवारजनों को मुख्यमंत्री श्री चौहान की घोषणा के अनुरूप पांच-पांच लाख रुपए की राशि के चेक उनके घर जाकर प्रदान किए। मृतक नारायण सिंह पिता जालम सिंह, सुनील पिता सोहन, शिवम पिता सुनील, गोविंद पुत्र करण सिंह एवं विक्की पिता शिवनाथ के परिवारजनों को यह राशि दी गई है।

दुर्घटना में मृतक शुभम और उनके पिता श्री सुनील के परिजनों को मध्यप्रदेश शासन की ओर से 5-5 लाख रुपए के दो चैक देकर संवेदना व्यक्त करते विश्वास सारंग एवं गोविन्द सिंह राजपूत।
दुर्घटना में मृतक शुभम और उनके पिता श्री सुनील के परिजनों को मध्यप्रदेश शासन की ओर से 5-5 लाख रुपए के दो चैक देकर संवेदना व्यक्त करते विश्वास सारंग एवं गोविन्द सिंह राजपूत।Social Media

घायलों को अस्पताल जाकर सौंपी पचास हज़ार रुपए की सहायता राशि :

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग और राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने घटना में घायल हुए लोगों से अस्पताल पहुँचकर मुलाक़ात की और उनका कुशलक्षेम जाना। मध्यप्रदेश सरकार की ओर से प्रत्येक घायल को सहायता राशि के रूप में 50 हज़ार रुपए का चेक प्रदान किया और डॉक्टर्स व अधिकारियों को निर्देश दिए कि घायलों के इलाज में किसी तरह की कमी न रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co