एनसीएल के तत्वावधान में नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की 15वीं बैठक संपन्न
एनसीएल के निदेशक बैठक को संबोधित करते हुएPrem N Gupta

एनसीएल के तत्वावधान में नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की 15वीं बैठक संपन्न

सिंगरौली, मध्यप्रदेश : एनसीएल के निदेशक कुमार ने कहा कि अधिकतर लोगों की मातृभाषा होने के कारण कार्यालयीन कार्यों में हिंदी का प्रयोग स्वप्रेरणा से होना चाहिए।

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। गुरुवार को नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) के सीएमडी सभागार से सिंगरौली नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की 15वीं बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संपन्न हुई।

बैठक की अध्यक्षता एनसीएल के निदेशक (कार्मिक) बिमलेन्दु कुमार ने की। कुमार ने कहा कि अधिकतर लोगों की मातृभाषा होने के कारण कार्यालयीन कार्यों में हिंदी का प्रयोग स्वप्रेरणा से होना चाहिए। कुमार ने कार्यालयीन कार्यों में राजभाषा के प्रयोग में हुई प्रगति पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि संप्रेषण में अन्य भाषाओं के प्रचलित शब्दों को सम्मिलित कर, नवाचारी तकनीकों का प्रयोग कर तथा आम बोलचाल की भाषा को बढ़ावा देते हुए राजभाषा को नवउत्कर्ष तक पहुँचाया जा सकता है।

तकनीकी मदद, सरल भाषा के प्रयोग व स्वप्रेरणा से दें राजभाषा हिन्दी को नई दिशा
बिमलेन्दु कुमार, निदेशक (कार्मिक)

इस बैठक में एनटीपीसी विंध्याचल, विंध्यनगर के कार्यकारी निदेशक मुनीश जौहरी, एनसीएल से महाप्रबंधक/ विभागाध्यक्ष राजभाषा एवं सदस्य-सचिव, सिंगरौली नराकास एस. एस. हसन, मुख्य महाप्रबंधक बीईएमएल बासुदेव मिश्रा , महाप्रबंधक (मानव संसाधन), एनटीपीसी विंध्यनगर उत्तम लाल, उपमहाप्रबंधक (पॉवरग्रिड) एल बी दुबे, कमाण्डेंट औ.सु बल (विंध्यनगर) जयप्रकाश आजाद, मुख्य प्रबंधक एसबीआई, वैढ़न शिवेन कृष्ण हंडू आदि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित रहे। साथ ही, बैठक में सिंगरौली जिले में स्थित एनसीएल की विभिन्न परियोजनाओं के स्टाफ अधिकारी(कार्मिक) व अन्य सरकारी संस्थानों के राजभाषा अधिकारियों ने भी भाग लिया।

इसके पूर्व सिंगरौली नराकास के सदस्य-सचिव, एनसीएल के महाप्रबंधक (राजभाषा) एस. एस. हसन ने बैठक में उपस्थित सभी लोगों का स्वागत किया तथा नराकास के उद्देश्यों तथा सिंगरौली नराकास द्वारा राजभाषा हिन्दी के प्रचार-प्रसार के लिए किए गए प्रयासों व कार्यों की विस्तार से चर्चा की।

इस अवसर पर एनटीपीसी विंध्याचल, विंध्यनगर के महाप्रबंधक(मानव संसाधन) उत्तम लाल ने एनटीपीसी में राजभाषा उन्नयन हेतु किए गए कार्यों की विस्तृत जानकारी दी। साथ ही सभी प्रतिष्ठानों के संबन्धित अधिकारियों ने राजभाषा के प्रसार हेतु किए गए विशिष्ट कार्यों का ब्योरा भी दिया।

गौरतलब है कि भारत सरकार के गृह मंत्रालय के राजभाषा विभाग द्वारा गठित सिंगरौली नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति (नराकास) में सिंगरौली जिले में स्थित एनसीएल, एनटीपीसी, पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन, बीईएमएल, एसबीआई, पोस्ट ऑफिस, सीआईएसएफ, बीएसएनएल तथा इंश्योरेंस कंपनियों सहित केंद्र सरकार के 20 से अधिक कार्यालय शामिल हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co