Raj Express
www.rajexpress.co
खुले में शौच करने गए 2 मासूम की हत्या
खुले में शौच करने गए 2 मासूम की हत्या|Social Media
मध्य प्रदेश

शिवपुरी: हैवानियत भरी घटना-खुले में शौच करने गए 2 मासूम की हत्या, गरमाई राजनीति

शिवपुरी: पोहरी रोड स्थित थाना सिरसौद के भावखेड़ी ग्राम में हैवानियत भरी घटना घटित हुई, यहां खुले में शौच करने गए 10-12 साल के मासूम बच्‍चों को दबंगों ने लट्ठ से पिटाई कर उनकी हत्या कर दी।

Priyanka Sahu

Priyanka Sahu

राज एक्‍सप्रेस। ये तो कहा जाता है कि, बच्चे ईश्वर का रूप होते हैं, उनकी मासूमियत पर हैवानों को भी दया आ जाती है, लेकिन इस कलयुग में कुछ हैवान ऐसे भी होते हैं, जिन्हें मासूम पर दया नहीं आती और वे उनके प्राण लेने से भी नहीं चूकते। जी हांं! शिवपुरी जिले के पोहरी रोड स्थित थाना सिरसौद के भावखेड़ी ग्राम में ऐसी ही हैवानियत भरी एक घटना घटित हुई, जिसमें सुबह के समय अपने घर से शौच करने निकले दो मासूम जब अनजाने में खुली व साफ जगह समझकर सड़क किनारे खुले में जा बैठे। उन्हें सड़क किनारे खुले में शौच करते देख दबंग पर मानों हैवान सवार हो गया और उसने इन दो मासूमों (Shivpuri 2 Child Murder) को लट्ठ से पीटना शुरू कर दिया।

लट्ठ की पिटाई से चिल्लाते रहे मासूम:

मासूम बच्चे दबंग के लट्ठ की पिटाई से चिल्लाते रहे और चिल्लाते-चिल्लाते बेहोश हो गये। तब भी लट्ठ से पिटाई कर रहे हैवान दबंग का मन नहीं पसीजा, वह फिर भी इन बेहोश मासूमों को मारता रहा। उसने तब तक इन पर लट्ठ से वार करना जारी रखा, जब तक उन मासूमों के प्राण नहीं निकल गए। बच्चों को मरा छोड़ दबंग वहां से भाग गया। जब लोगों की बच्चों पर नजर पड़ी तो, उन्हें उठाकर जिला अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्‍टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

गांव में एक ही दलित परिवार:

भावखेड़ी गांव में सबसे अधिक यादवों के घर है। बताया जाता है कि, यह गांव यादव बाहुल्य है यहां केवल एक ही दलित परिवार निवास करता है, जिससे इस परिवार को यादवों का भय हमेशा बना रहता था। अनजाने में मासूमों द्वारा खुले में शौच करना यादवों को रास न आया और उनमें से कुछ यादवों ने बच्चों को खुले में शौच करना अपनी तौहीन समझा, जिसका खामियाजा रोशनी (12) और अविनाश (10) को अपनी जान गंवाकर भुगतना पड़ा।

गंभीरता से मामले की जांच में जुटी पुलिस:

आरएस धाकड़ थाना प्रभारी सिरसौद ने कहा कि, दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस गंभीरता से मामले की जांच में जुटी है। दोनों मृत बच्चों की लाश पीएम हेतु भेज दी गई है। आरोपियों के खिलाफ धारा 302ए, 34 आईपीसीए 3(2) (बी) एस.सी.एस.टी. एक्‍ट के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया गया है।

इस घटना पर राजनीति गरमाई :

मध्‍यप्रेदश के मुख्‍यमंत्री कमलनाथ ने इन दो मासूम बच्चों की हत्या किए जाने की घटना को हृदय विदारक बताते हुए आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई और परिवार की पूर्ण सुरक्षा तथा परिवार की हर संभव मदद के निर्देश दिए हैं।

मायावती ने कांग्रेस-भाजपा को लिया आड़े हाथ :

वहीं बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने 2 ट्वीट कर इस मामले में कांग्रेस व भाजपा दोनों पार्टी को आड़े हाथों लिया, पहले ट्वीट में उन्‍होंने दु:ख व्‍यक्‍त किया, तो वहीं दूसरे ट्वीट में कांग्रेस- बीजेपी से सवाल किए।

देश के करोड़ों दलितों, पिछड़ों व धार्मिक अल्पसंख्यकों को सरकारी सुविधाओं से वंचित रखने के साथ-साथ उन्हें हर प्रकार के ज़ुल्म-ज्यादतियों का शिकार भी बनाया जाता रहा है, ऐसे में मध्य प्रदेश के शिवपुरी में दो दलित बच्चों की नृशंस हत्या अति-दुःखद व अति-निन्दनीय है।
मायावती
कांग्रेस व बीजेपी सरकार बताए कि, गरीब दलितों व पिछड़ों आदि के घरों में शौचालय की समुचित व्यवस्था क्यों नहीं की गई है? यह सच बहुत ही कड़वा है, तो फिर खुले में शौच को मजबूर दलित युवकों की पीट-पीट कर हत्या करने वालों को फांसी की सजा अवश्य दिलायी जानी चाहिए।
मायावती

4-4 लाख की आर्थिक सहायता के सौंपे चैक :

गुरुवार को कलेक्‍टर श्रीमती अनुग्रह पी मृत बच्चों के परिजनों से मिलने भावखेड़ी गांव पहुंचीं, तो बच्चों की मां बेहोश होकर गिर पड़ी। इस दौरान कलेक्‍टर ने तुरंत उसे संभाला। उन्होंने परिजनों का हाल जाना और उन्हें दुख: की इस घड़ी में अपने आप को संभालने को कहा। वहीं उन्होंने परिजनों को 4-4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता के चैक सौपें। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल, एसडीएम अतेंद्र सिंह गुर्जर, डिप्टी कलेक्टर एवं प्रभारी ट्राइबल विभाग पल्लवी वैद्य भी मौजूद थीं।