कमला नेहरू अस्पताल में अग्निकांड पर MP सरकार की बड़ी कार्रवाई- 4 अफसरों पर गिरी गाज
कमला नेहरू अस्पताल में अग्निकांड पर MP सरकार की बड़ी कार्रवाई- 4 अफसरों पर गिरी गाजSyed Dabeer Hussain - RE

कमला नेहरू अस्पताल में अग्निकांड पर MP सरकार की बड़ी कार्रवाई- 4 अफसरों पर गिरी गाज

कमला नेहरू अस्पताल में चिल्ड्रन वार्ड में हृदय विदारक घटना के बाद आज सरकार द्वारा तीन अधिकारियों को पद से हटा दिया एवं सीपीए विद्युत विंग के उपयंत्री को सस्पेंड कर दिया गया है।

भोपाल, मध्‍य प्रदेश। मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) के सबसे बड़ी हॉस्पिटल यानी हमीदिया के कमला नेहरू अस्पताल में चिल्ड्रन वार्ड में सोमवार रात की हृदय विदारक घटना पर MP की शिवराज सरकार एक्‍शन मोड पर है और इस संबंध में आज हुई महत्वपूर्ण बैठक के बाद चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने प्रेस वार्ता की।

4 अफसरों पर गिरी गाज :

MP की शिवराज सरकार द्वारा कमला नेहरू अस्पताल में अग्निकांड के दो दिन बाद ज़िम्मेदार अधिकारियों पर बड़ी कार्रवाई की गई है, जिससे 4 अफसरों पर गाज गिरी है। राज्य सरकार द्वारा गांधी मेडिकल कॉलेज के डीन, अधीक्षक और संचालक को हटा दिया गया, साथ ही सीपीए के विद्युत विंग के उपयंत्री को निलंबित करने के निर्देश जारी किए गए हैं।

मंत्री विश्वास सारंग ने बताया :

इस बारे में प्रेस वार्ता के दौरान चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बताया- भोपाल के कमला नेहरू अस्पताल की घटना दुर्भाग्य पूर्ण है। इस हृदय विदारक दुर्भाग्य पूर्ण घटना में चार बच्चों की मौत हुई है। गांधी मेडिकल कॉलेज के डीन जितेंद्र शुक्ला, हमीदिया अस्पताल के सुपरिटेंडेंट डॉ.लोकेंद्र दवे और कमला नेहरू अस्पताल के संचालक के.के. दुबे को पद से हटाया गया है। सीपीए इलेक्ट्रिक डिपार्टमेंट के उपयंत्री अवधेश भदौरिया को निलंबित किया गया है।

मंत्री विश्वास सारंग ने ट्वीट कहा, ''कमला नेहरू अस्पताल की दुःखद घटना के बाद ज़िम्मेदार अधिकारियों पर मा.मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए गाँधी मेडिकल कॉलेज डीन डॉ. जितेंद्र शुक्ला हमीदिया अस्पताल अधीक्षक डॉ. लोकेंद्र दवे व गैस राहत विभाग संचालक श्री के.के.दुबे को पद से हटा दिया गया है। साथ ही CPA विद्युत विंग उपयंत्री श्री अवधेश भदौरिया को निलंबित कर दिया गया है।''

बता दें कि, आज बुधवार को हुई बैठक में लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री प्रभुराम चौधरी, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, भोपाल के प्रभारी मंत्री भूपेंद्र सिंह, मुख्य सचिव सहित शीर्ष अधिकारी संग MP के CM शिवराज सिंह चौहान ने मीटिंग कर अधिकारियों से कहा कि, उन्होंने जांच के निर्देश दिए थे, उसके तथ्य दीजिए। मीटिंग के ठीक बाद चारों अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co