मृत पक्षियों का सैंपल भोपाल लैब पहुंचाने 350 किमी किया बाइक से सफर
मृत पक्षियों का सैंपल भोपाल लैब पहुंचाने 350 किमी किया बाइक से सफरRaj Express

मृत पक्षियों का सैंपल भोपाल लैब पहुंचाने 350 किमी किया बाइक से सफर

मुख्यमंत्री ने निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर से मृत पक्षियों के सैंपल पुत्र के साथ मोटरसाइकिल पर भोपाल स्थित प्रयोगशाला पहुंचाने वाले सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्राधिकारी आरपी तिवारी की प्रशंसा की है।

भोपाल, मध्य प्रदेश। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पशुपालन मंत्री प्रेमसिंह पटेल ने निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर से मृत पक्षियों के सैंपल पुत्र के साथ मोटरसाइकिल पर भोपाल स्थित राज्य पशुरोग अन्वेषण प्रयोगशाला पहुंचाने वाले सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्राधिकारी आरपी तिवारी की प्रशंसा की है। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि बिना किसी सुविधा का इंतजार किए जिस तरह श्री तिवारी ने बर्ड फ्लू महामारी के नियंत्रण के लिए अविलंब भोपाल लैब को सैँपल पहुंचाए हैं, यह प्रदेश ही नहीं देश के लिए भी अनुकरणीय मिसाल बन गई है।

बस छूटी, ट्रेन में नहीं मिला रिजर्वेशन :

उल्लेखनीय है कि बीते शुक्रवार को निवाड़ी जिले के सोरका गांव में दो दर्जन से ज्यादा चिड़ियाँ मृत पाईं गई थीं। पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर सैंपल एकत्र किए। कार्यवाही पूरी होने के बाद सैंपल जांच के लिए भोपाल भेजने की जिम्मेदारी पृथ्वीपुर के सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्राधिकारी आरपी तिवारी को दी गई। श्री तिवारी ने बस का टिकट बुक कराया परंतु जब तक वे बस स्टेंड पहुंचे बस निकल चुकी थी। उन्होंने इसके बाद झांसी से रेल टिकट रिजर्वेशन का प्रयास किया, लेकिन टिकट नहीं मिला। उन्होंने शनिवार की सुबह बेटे से बाइक चलाकर भोपाल चलने को कहा। कड़ाके की ठंड और बारिश के कारण पिता-पुत्र को कई स्थानों पर रूकना पड़ा। श्री तिवारी ने रविवार सुबह ही भोपाल में सैंपल जमा करा दिया।

अब तक 18 जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि :

प्रदेश में अब तक 18 जिलों इंदौर, मंदसौर, आगर, नीमच, देवास, उज्जैन, खंडवा, खरगौन, गुना, शिवपुरी, राजगढ़, शाजापुर, विदिशा, भोपाल, होशंगाबाद, अशोकनगर, दतिया और बड़वानी में कौवों और जंगली पक्षियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। प्रदेश के विभिन्न जिलों से 328 सैंपल राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा रोग अनुसंधान प्रयोगशाला (एनआईएचएसएडी) जांच हेतु भेजे जा चुके हैं। अलीराजपुर जिले से भेजे गए नमूनों में बर्ड फ्लू वायरस नहीं पाया गया है। सभी जिलों में रोग नियंत्रण की कार्यवाही राज्य और केंद्र शासन द्वारा जारी एडवाइजरी के अनुसार की जा रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co