भोपाल के 126 सेंटरों में 5500 स्वास्थ्य कर्मियों को लगा कोरोना का टीका
भोपाल के 126 सेंटरो में 5500 स्वास्थ्य कर्मियों को लगा कोरोना का टीकाSocial Media

भोपाल के 126 सेंटरों में 5500 स्वास्थ्य कर्मियों को लगा कोरोना का टीका

भोपाल में टीकाकरण के लिए 126 सेंटर बनाये गए थे। 126 सेंटरों पर 5500 हेल्थ वर्करों को कोरोना वैक्सीन का टीका लगाया गया है। बुधवार को सिर्फ 30 प्रतिशत लोगों को ही वैक्सीन का टीका लग सका है।

भोपाल, मध्य प्रदेश। मध्‍य प्रदेश में कोरोना टीकाकरण से छूटे स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को बुधवार से तीन दिन तक 1081 केंद्रों पर टीका लगाने की प्रक्रिया सुबह 9 बजे से शुरू की गई। टीका लगवाने के लिए जिन स्वास्थ्यकर्मियों को बुधवार को लिए एसएमएस भेजा गया था वह सुबह से ही एसएमएस में बताये गए अस्पताल में पहुच गए। पूरे प्रदेश में 1081 सेंटरों में 32346 हेल्थ वर्करों को टीका लगाया गया है जबकि 109352 लोगों को टीका लगाने का टारगेट रखा गया था पूरे प्रदेश में सिर्फ 30 प्रतिशत हेल्थ वर्करों ने टीका लगवाने में रुचि दिखाई है अभी 4 और 5 फरवरी को भी बचे हुए हेल्थ वर्करों को टीका लगाया जायेगा।

भोपाल में 5500 हेल्थवर्करों को लगा टीका :

राजधानी भोपाल की बात की जाये तो यहां पर टीकाकरण के लिए 126 सेंटर बनाये गए थे। 126 सेंटरों पर 5500 हेल्थ वर्करों को कोरोना वैक्सीन का टीका लगाया गया है। बुधवार को सिर्फ 30 प्रतिशत लोगों को ही वैक्सीन का टीका लग सका है। जबकि बुधवार के लिए 18575 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया था।

अभी 2 दिन और होगा टीकाकरण :

राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला ने बताया कि प्रदेश में टीकाकरण से छूट गए कर्मचारियों के लिए अभी दो दिन तक मॉपअप राउंड चलेगा। टीकाकरण की पूरी प्रक्रिया उसी तरह से होगी, जैसी अभी तक चल रही थी। सिर्फ उन्हीं कर्मचारियों को टीका लगाया जाएगा जिनका कोविन पोर्टल में पंजीयन पहले से हो चुका है। नए स्वास्थ्य कर्मियों को शामिल नहीं किया जाएगा। बुधवार को कुछ स्वास्थ्य कर्मियों ने टीका लगवा लिया है अब बचे हुए दो दिनो में हेल्थ वर्करो को टीका लगाया जायेगा। जो स्वास्थ्यकर्मी टीका लगवाने के लिए नहीं आएंगे, उन्हें बाद में मौका नहीं दिया जाएगा।

पारूल अस्पताल में देर से शुरू हुआ टीकाकरण :

पारुल अस्पताल में वैक्सीनेशन का काम देरी से शुरू हुआ। 11 बजे वैक्सीन आने के कारण वैक्सीनेशन देरी से शुरू हुआ। जबकि स्वास्थ्य कर्मचारी सुबह 9 बजे से ही हॉस्पिटल परिसर में आ गए थे हॉस्पिटल संचालक पंकज अग्रवाल ने बताया कि सरवर स्लो चलने के कारण और वैक्सीन लेट आने के कारण वैक्सीनेशन देरी से शुरू हुआ, धीरे-धीरे आये हुए सभी हेल्थ वर्करों को टीका लगा दिया गया।

छह फरवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स को लगेगा टीका :

डॉ. संतोष शुक्ला ने बताया कि छह फरवरी से प्रदेश में फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाया जाएगा। इसमें नगर निगम के कर्मचारी, राजस्व कर्मचारी, आपदा प्रबंधन से जुड़ कर्मचारी व पुलिसकर्मी शामिल हैं। डॉ. शुक्ला ने बताया कि प्रदेश भर से अभी तक करीब तीन लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स का आंकड़ा मिला है। यह संख्या अभी और बढ़ेगी। उन्होंने बताया कि फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए टीका का अतिरिक्त डोज केंद्र सरकार से दो-तीन दिन के भीतर मिल जाएगा। इसकी सूचना आ गई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co