बच्चे की हत्या का पर्दाफाश
बच्चे की हत्या का पर्दाफाश|Social Media
मध्य प्रदेश

हॉस्टल में 7 वर्षीय बच्चे की हत्या का पर्दाफाश, हत्यारा पकड़ाया

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के पिपलानी थाना क्षेत्र में स्थित एक सरकारी छात्रावास में 7 वर्ष के बालक की हत्या का पर्दाफाश।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के पिपलानी थाना क्षेत्र में स्थित एक सरकारी छात्रावास में 7 वर्ष के बालक की हत्या का पर्दाफाश हो गया है, आपको बता दें कि 7 साल के मासूम की हत्या छात्रावास के चौकीदार ने ही की थी। इसका खुलासा शुक्रवार को पिपलानी थाना पुलिस ने किया। आरोपी का नाम जगदीश पिता हंसराज कलवावत है आरोपी के बारे में पता लगाने के लिए पुलिस की विभिन्न टीमें पूरी ताकत से जुटी थीं।

पिपलानी पुलिस ने किया अंधेकत्ल का पर्दाफाश

उप महानिरीक्षक (डीआईजी) भोपाल इरशाद वली ने स्वयं शुक्रवार को घटनास्थल का मुआयना किया। पिपलानी थाना क्षेत्र में स्थित शासकीय अनुसूचित जाति बालक आश्रम में कक्षा पहली के छात्र सूरज खरते का शव आश्रम के बाथरूम में बुधवार की रात्रि में मिला था। अगले दिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उसकी हत्या की बात सामने आई। इसके बाद पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ की।

सात वर्षीय बच्चे की गला घोंटकर की थी हत्या

थाना पिपलानी में 15 जनवरी को सूचना प्राप्त हुई कि पटेल नगर में स्थित आदिवासी छात्रावास में रहने वाले 7 वर्षीय बालक को छात्रावास के स्टाफ के द्वारा हमीदिया अस्पताल में उपचार हेतु भर्ती किया गया था, जिसकी मृत्यु हो गई है जिस पर थाना पिपलानी में मर्ग कायम किया और जांच में लेकर विवेचना प्रारंभ की गई। मृतक के शव की पीएम रिपोर्ट में बालक की मृत्यु गला दबाने के कारण दम घुटने से होना डॉक्टरों द्वारा लेख किया गया।

उक्त पीएम रिपोर्ट के आधार थाना पिपलानी में अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अपराध कायम कर मर्ग विवेचना में लिया गया। मामले की गंभीरता को देखते हुए उप महानिरीक्षक शहर भोपाल इरशाद वली द्वारा पुलिस अधीक्षक दक्षिण क्षेत्र भोपाल संपत उपाध्याय को मामले में त्वरित कार्यवाही हेतु बताया गया । अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जोन.2 भोपाल संजय साहू के निर्देशन में नगर पुलिस अधीक्षक गोविंदपुरा संभाग अमित कुमार के नेतृत्व में थाना पिपलानी के नगर निरीक्षक राकेश श्रीवास्तव द्वारा एक टीम गठित कर आरोपी की गिरफ़्तारी हेतु लगाया गया।

7 वर्ष के बालक की हत्या पर्दाफाश
7 वर्ष के बालक की हत्या पर्दाफाश
Social Media

विवेचना के दौरान छात्रावास में रहने वाले सभी छात्रों, छात्रावास अधीक्षिका एवं छात्रावास में कार्य करने वाले समस्त कर्मचारियों से पूछताछ की गई । विवेचना के दौरान आरोपी जगदीश पिता हंसराज कलवावत उम्र 35 साल निवासी किशनपुरा फतेहगढ़ जिला गुना मप्र के द्वारा हत्या करना स्वीकार किया है। आरोपी को गिरफ्त में ले लिया गया है औरप्रकरण की विवेचना की जा रही है।

2 कर्मचारी निलंबित

इस मामले में राज्य सरकार ने घटना की मजिस्ट्रेट जांच तथा पीड़ित परिवार को दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। जिला दंडाधिकारी तरुण पिथोड़े ने घटना की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही गंभीर लापरवाही एवं उदासीनता बरतने को लेकर छात्रावास अधीक्षिका रेचल राम और पर्यवेक्षण अधिकारी शकील कुरैशी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

शासकीय आदिवासी हॉस्टल प्रबंधन में लापरवाही

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co