जिला शिक्षा अधिकारी के द्वारा बीआरसी को अपशब्द
जिला शिक्षा अधिकारी के द्वारा बीआरसी को अपशब्द|Shashikant Kushwaha
मध्य प्रदेश

जिला शिक्षा अधिकारी के द्वारा बीआरसी को अपशब्द कहने का ऑडियो वायरल

सिंगरौली, मध्य प्रदेश : दूसरों को शिक्षा देने वाला शिक्षा विभाग इन दिनों अपनी ही मर्यादा तार-तार होने का देख रहा है तमाशा...

Shashikant Kushwaha

राज एक्सप्रेस। दूसरों को शिक्षा देने वाला शिक्षा विभाग इन दिनों अपनी ही मर्यादा तार-तार होने का तमाशा देख रहा है जी हां सिंगरौली जिला शिक्षा अधिकारी बृजेश मिश्रा इन दिनों शिक्षा विभाग की मर्यादा को शर्मसार करने में तुले हुए हैं जी हां हम बात कर रहे हैं सोशल मीडिया में चल रहे इन दिनों एक ऑडियो व वीडियो की। ऑडियो की बात करें तो एक युवक से डीईओ की वार्तालाप हो रही है जिसमें डीईओ उत्तेजित होकर बीआरसी देवसर के लिए अमर्यादित भाषा का प्रयोग कर रहे हैं ।

बीआरसी ने दी प्रतिक्रिया :

यह ऑडियो वायरल होने के बाद जब बीआरसी तक पहुंचा तब बीआरसी ने कैमरे के सामने आते ही फफक-फफक कर रोना शुरू कर दिया जी हां बीआरसी की स्थिति यही बता रही है कि उनकी जगह कोई भी होता तो आंसू ना संभाल पाता क्योंकि डीईओ ने रोने पर मजबूर कर दिया है फिलहाल बीआरसी को काफी नाराज एवं आक्रोशित देखा जा रहा है वही समुचित शिक्षा विभाग सिंगरौली के महकमों में भी स्पष्ट रूप से नाराजगी एवं आक्रोश झलक रहा है ।

जिला कलेक्टर से बंधी उम्मीद :

बीआरसी में कैमरे के सामने कहा कि, निश्चित रूप से कलेक्टर सिंगरौली केबीएस चौधरी प्रदेश के अच्छे कलेक्टरों में से एक हैं और अवश्य इस मामले को गंभीरता से लेकर डीईओ के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करेंगे बीआरसी ने यह भी कहा कि इस मामले की शिकायत तमाम जगह की जाएगी और निश्चित रूप से कार्यवाही कराने की पूरी कोशिश की जाएगी।

कर्मचारी होंगे लामबंद :

यदि कार्यवाही नहीं होती है तो स्वयं मैं ही नहीं बल्कि शिक्षा विभाग के ढेर सारे कर्मचारी लामबंद हो जाएंगे औरों के खिलाफ सड़कों पर उतर जाएंगे फिलहाल मामला अभी भी गर्म है और वरिष्ठ अधिकारी इस मामले को अपने संज्ञान में ले चुके हैं अब देखने वाली बात यह होगी कि किस तरह की और कब कार्यवाही सामने आती है।

कैमरे के सामने रो पड़े बीआरसी :

गाली देने का ऑडियो वायरल होने के बाद एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है जिसमें बीआरसी देवसर के के दुबे डीईओ के इस कृत्य से काफी नाराज देखे जा रहे हैं कह रहे हैं कि डीईओ का बहुत सम्मान करते थे लेकिन डीईओ ने मां की गाली देकर बहुत बड़ा अन्याय किया है उन्होंने कहा कि सिर्फ मैं ही नहीं बल्कि ढेर सारे ऐसे उनके अधीनस्थ कर्मचारी हैं जो इसी तरह से डीईओ के द्वारा अमर्यादित हो चुके हैं उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग के जिम्मेदार को इस तरह से अमर्यादित होना शोभा नहीं देता और अभद्र भाषा का प्रयोग कर न सिर्फ मुझे पीड़ा दिए हैं बल्कि पूरे शिक्षा विभाग को कलंकित कर दिए हैं अपना दुःखड़ा सुनाते-सुनाते बीआरसी फफक-फफक कर रोने लगते हैं।

जगह-जगह हो रही घोर निंदा :

डीईओ के इस कृत्य की जगह जगह घोर निंदा हो रही है सोशल मीडिया में ही डीईओ के खिलाफ तमाम प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही हैं। सभी लोग यही कह रहे हैं कि डीईओ ने सिंगरौली जिले के शिक्षा विभाग को तार-तार कर दिया है कलंकित कर दिया है उन्हें अति शीघ्र सिंगरौली जिले से हटा दिया जाए अन्यथा निश्चित रूप से शिक्षा का स्तर अपने आप नीचे चला जाएगा।

डीईओ को हटाने की मांग :

डीईओ द्वारा गाली देने का ऑडियो वायरल होने के बाद जैसे ही मामला गरम हुआ सभी ने डीईओ को हटाने की मांग शुरू कर दी है शिक्षा विभाग के महकमों ने यह कहना शुरू कर दिया है कि बृजेश मिश्रा के अधीनस्थ काम करना अब मुश्किल हो गया है इस वजह से इन्हें अतिशीघ्र सिंगरौली जिले से हटा दिया जाए अन्यथा तमाम कर्मचारी लामबंद हो जाएंगे और इसका सीधा असर शिक्षा के स्तर पर पड़ेगा वहीं आम लोग भी कह रहे हैं कि ऐसी स्थिति में डीईओ को तत्काल सिंगरौली जिले से हटा देना चाहिए क्योंकि शिक्षा विभाग को हर हाल में गंभीरता से होना चाहिए और प्रशासन अति शीघ्र इस विभाग की समस्या दूर करे, ताकि यदि विभाग में विवादित स्थिति बनी रहेगी तो निश्चित रूप से शिक्षा के स्तर पर भारी असर देखने को मिलेगा।

इनका कहना है-

ऑल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस एटक के प्रदेश सचिव संजय नामदेव ने कहा कि जिला शिक्षा अधिकारी श्री बृजेश मिश्रा के द्वारा इसके पहले भी कर्मचारियों साथ अभद्रता की जाती रही । कहीं ना कहीं जिला शिक्षा अधिकारी बीआरसी पर दबाव बना करके उनसे हमेशा हर प्राइवेट स्कूल वालों से पैसे की डिमांड करवाते थे यह तो बात खुल गई जिससे इनका घोटाला उजागर हुआ। हम इसकी कड़ी निंदा करते हैं व जिला प्रशासन से कार्यवाही की माँग करते हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co