Raj Express
www.rajexpress.co
राज एक्सप्रेस की खबर के बाद अवैध रेत उत्खनन पर प्रशासन सख्त
राज एक्सप्रेस की खबर के बाद अवैध रेत उत्खनन पर प्रशासन सख्त|Afsar Khan
मध्य प्रदेश

शहडोल: राज एक्सप्रेस की खबर के बाद अवैध रेत उत्खनन पर प्रशासन सख्त

ब्यौहारी, शहडोल: सोनघडिय़ाल अभ्यारण्य क्षेत्र में हो रहे रेत के अवैध कारोबार पर प्रशासन सख्त हो गया है। सोन नदी से स्थानीय लोगों के द्वारा रातो-दिन ट्रैक्टरों से अवैध उत्खनन किया जा रहा है।

Afsar Khan

हाइलाइट्स:

  • सोनघड़ियाल अभ्यारण्य क्षेत्र में हो रहे रेत के अवैध कारोबार पर प्रशासन सख्त

  • राज एक्सप्रेस की खबर बाद लिया गया एक्शन

  • पहले भी कार्यवाहियों का दौर चला, कोई फर्क नहीं आया नज़र

  • प्रशासन ने सख्ती से कार्यवाही करने का बनाया मन

  • किया जा रहा है रात-दिन ट्रैक्टरों से अवैध रेत का निरंतर उत्खनन

राज एक्सप्रेस। ब्यौहारी तहसील के सोनघड़ियाल अभ्यारण्य क्षेत्र में रेत के अवैध कारोबार की खबरे निरंतर मिल रही थी, जिसे राज एक्सप्रेस ने प्रमुखता से प्रकाशित करते हुए, प्रशासन का ध्यान आकृष्ट किया था, जिसके बाद कलेक्टर ने संज्ञान लेते हुए एसडीएम पी.के.पाण्डेय को मौके पर पहुंचकर हो रहे सोन नदी के संरक्षित क्षेत्र से अवैध रेत उत्खनन को तत्काल बंद कराने के निर्देश दिये थे। जिस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए एसडीएम अपने दलबल के साथ बुड़वा के सोनघड़ियाल संरक्षित क्षेत्र वाले स्थान पर पहुंचे, जहां से स्थानीय लोगों के द्वारा प्रतिदिन सैंकड़ों ट्रैक्टर अवैध रेत की निकासी की जाती थी। जिसके आये दिन वीडियो और फोटो सोशल मीडिया में वायरल होते रहते हैं, पहले भी यहां कार्यवाहियों का दौर चला है, लेकिन यहां का रेत माफिया प्रशासन को चुनौती देता रहा है। जिस पर प्रशासन ने सख्ती से कार्यवाही का मन बना लिया है।

मशीन से रास्ते में खोदा गड्ढा :

बुड़वा के झिरिया और सुखाढ़ में नदी तक जाने वाले कच्चे रास्ते को जेसीबी मशीन की मदद से खोदकर बंद करा दिया गया है। ताकि सोन नदी के संरक्षित क्षेत्र से अवैध रेत का उत्खनन बंद कराया जा सके और सोनघड़ियाल अभ्यारण को बचाया जा सके। बुड़वा गांव मे सोन नदी के संरक्षित क्षेत्र सुखाढ़ और झिरिया में प्रतिबंध के बाद भी अनवरत रेत उत्खनन का काम जारी रहा है। खबर को राज एक्सप्रेस ने बीते अंकों में प्रकाशित किया था। जिसके बाद प्रशासन हरकत मे आया और एसडीएम खुद अपने दलबल के साथ बुड़वा पहुंचकर सोन नदी तक जाने वाले रास्तों को जेसीबी मशीन से गड्ढा खोदकर बंद कराया गया।

राज एक्सप्रेस की खबर के बाद अवैध रेत उत्खनन पर प्रशासन सख्त
राज एक्सप्रेस की खबर के बाद अवैध रेत उत्खनन पर प्रशासन सख्त
Afsar Khan

छुटपुट कार्यवाही में पीटते हैं ढिढ़ोरा :

बुडवा के झिरिया टोला और सुखाढ़ में सोन नदी से स्थानीय लोगों के द्वारा रात-दिन ट्रैक्टरों से अवैध रेत का निरंतर उत्खनन किया जाता रहा है, रेत माफिया क्षेत्र के तीन जिलों की सीमा लगे होने का लाभ उठाता है। नदी में लेबरों से ट्रैक्टर भर कर निर्धारित जगह पर भंडारण किया जाता है। जहां से हाइवा ट्रकों में भरकर बाहर भेजा जाता है। ब्यौहारी क्षेत्र रेत उत्खनन का प्रमुख अड्डा बना हुआ है। यहां से प्रति दिन सैकड़ों ट्रैक्टर रेत बाहर भेजी जाती है। जिसमे पूरा एक गिरोह सक्रिय है, जिसका पूरा नेटवर्क सेट है। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन पर स्थानीय प्रशासन छुटपुट कार्यवाही करता रहता है।

यहां कार्यवाही की दरकार :

क्षेत्र में हो रहे अवैध उत्खनन प्रशासन के लिए चुनौती से कम नहीं है, स्थानीय पुलिस सहित प्रशासन को एक जुट होकर रेत माफिया के खिलाफ कार्यवाही करने पर ही संभवत: रेत माफियाओं के मन में खौफ आयेगा, लेकिन जिम्मेदारों द्वारा कागजी खाना-पूर्ति के हिसाब से कार्यवाही की जा रही है, जिससे रेतमाफियाओं के हौसले बुलंद है, नौढिया, खडहुली, भोलहरा, तिखबा, मऊ, भमरहा प्रथम, उकसा , बराछ , सौंता आदि जगहों स्थानीय लोगों द्वारा रेत भण्डारित कर रखी गई है, जिससे भी प्रशासन के संज्ञान में लेना होगा।

इनका कहना :

ब्यौहारी के एसडीएम पी.के.पाण्डेय का कहना है कि, मेरे द्वारा निरंतर क्षेत्र में अवैध रेत उत्खनन और परिवहन करने वाले वाहनो पर कार्यवाही की जाती रही है। रविवार को बुड़वा के सुखाढ़ और झिरिया मे नदी तक जाने वाले कच्चे रास्ते को जेसीबी से खोद दिया गया है। आगे भी कार्यावाही जारी रहेगी।