निरीक्षकों पर पत्थरबाजी के बाद जागा प्रशासन
निरीक्षकों पर पत्थरबाजी के बाद जागा प्रशासन
मध्य प्रदेश

शहडोल : निरीक्षकों पर पत्थरबाजी के बाद जागा प्रशासन

शहडोल : अज्ञात लोगों ने निरीक्षकों के ऊपर पत्थरबाजी की थी, मामला पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों के संज्ञान में आने के बाद बटली घाट से सोन नदी के तट पर जाने वाले रास्ते को JCB की मदद से बंद कराया गया।

Afsar Khan

शहडोल, मध्य प्रदेश। बुढ़ार तहसील के जरवाही में सोन नदी के बटली घाट में रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन का मामला बीते कई दिनों से कलेक्टर डॉ. सतेन्द्र सिंह के संज्ञान में आ रहा था, जिसके बाद कलेक्टर के निर्देश पर खनिज निरीक्षक प्रभात पट्टा, सुरेश कुलस्ते मंगलवार की देर शाम कार्यवाही के लिए बटली घाट पहुंचे थे। अंधेरे में अज्ञात लोगों ने निरीक्षकों के ऊपर पत्थरबाजी की थी, मामला पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों के संज्ञान में आने के बाद बुधवार को बटली घाट से सोन नदी के तट पर जाने वाले रास्ते को जेसीबी की मदद से बंद कराया गया।

वाहन पर मारे पत्थर :

खनिज निरीक्षक प्रभात पट्टा और सुरेश कुलस्ते जांच के लिए मंगलवार को रात्रि 8 बजे के आस-पास बटली घाट पर पहुंचे थे, मौके पर वाहन तो नहीं मिले, लेकिन नदी में मजदूर जरूर मौजूद थे, अज्ञात तत्वों ने अंधेरे का फायदा उठाते हुए पत्थरबाजी की। निरीक्षकों ने बताया कि रात होने के चलते उन्हें यह ज्ञात नहीं हो पाया कि पत्थरबाजी किसके द्वारा की गई थी। बटली घाट पर जो घटना घटी उसके बाद निरीक्षक वापिस लौटने के बाद पूरा मामला पुलिस और प्रशासन को बताया था।

जेसीबी से बंद कराया रास्ता :

लगातार मिल रही शिकायतों और निरीक्षकों पर की गई पत्थरबाजी के बाद बुधवार को खनिज, पुलिस और राजस्व विभाग की टीम बटली घाट पहुंची, जिस स्थान से रेत की चोरी के लिए रास्ता बनाया गया था, उसे बंद करा दिया गया है, ताकि भविष्य में रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन न हो सके। कार्यवाही के दौरान खनिज निरीक्षक सुरेश कुलस्ते, प्रभात पट्टा, खनिज अमले के साथ पुलिस और राजस्व विभाग की टीमें शामिल रही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co