Raj Express
www.rajexpress.co
विधायक लक्ष्मण सिंह
विधायक लक्ष्मण सिंह|Social Media
मध्य प्रदेश

विधायक महोदय ने अपशब्द कहे, मेरी वर्दी और आत्मसम्मान को ठेस पहुँची

आप लोगों को ध्यान होगा बीते दिनों सोशल मीडिया में विधायक लक्ष्मण सिंह का एक वीडियो वायरल हो रहा था। वीडियो में विधायक फोन पर एक थाना प्रभारी को फटकार लगा रहे थे।

रवीना शशि मिंज

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश कांग्रेस के बागी विधायक लक्ष्मण सिंह एक बार फिर अपने बागी स्वभाव से सुर्खियों में हैं। आप लोगों को ध्यान होगा, बीते दिनों सोशल मीडिया में विधायक लक्ष्मण सिंह का एक वीडियो वायरल हो रहा था। वीडियो में विधायक फोन पर एक थाना प्रभारी को फटकार लगा रहे थे।

वीडियो वायरल होने के बाद, पीड़ित गुना जिले के चाचौड़ क्षेत्र के थाना प्रभारी राम शर्मा ने अपने ट्रांसफर का आवेदन एसपी को दिया। आवेदन में थाना प्रभारी ने विधायक के नाम का उल्लेख करते हुए लिखा, विधायक महोदय ने फोन पर मुझसे अपशब्द कहे। इस कृत्य से मेरी वर्दी और मेरे आत्मसम्मान को बहुत ठेस पहुँची है और ऐसे माहौल में नौकरी नहीं कर सकता। इसलिए मेरा स्थानांतरण किया जाए।

फोन में क्या कहा था विधायक ने

वीडियो में विधायक फोन लाउड स्पीकर चालूकर बात करते दिखाई दे रहे हैं। वे कह रहे हैं 'मैं आ रहा हूँ और बोर्ड लगा रहा हूँ आपके थाने में, थाने को दुकान बना रखा है आप लोगों ने, रोज़ कुछ न कुछ कर रहे हैं। इनका 11 हज़ार रूपए वापस कराईए। तुम्हारे नीचे प्रधान आरक्षक ने इनसे रूपए लिए हैं।'

इस घटनाक्रम के बाद एसपी ने प्रधान आरक्षक मान सिंह गुर्जर को सस्पेंड कर दिया है। प्रधान आरक्षक पर आरोप है कि कोई दो पक्षों में राजीनामा कराने के बाद उनसे रूपए लिए।

आवेदन में तीनों लोगों पर लगाए आरोप

थाना प्रभारी राम शर्मा ने आवेदन में विधायक लक्ष्मण सिंह के अलावा विधायक प्रतिनिधि सीताराम गुर्जरनारायण सिंह भील पर सोशल मीडिया में वीडियो वायरल करने का आरोप लगाया है।

आवेदन पत्र में नारायण सिंह भील पर दलाली का आरोप लगाया है। उन्होंने लिखा है कि 'नारायण सिंह भील पूर्व में लोगों से पुलिस के नाम पर रूपए ऐंठते थे। इसलिए उन्हें थाने आने से रोका गया, जिससे दलाली बंद हो गई। सीताराम गुर्जर अपराधिक प्रवृत्ति के हैं। जिस कारण यह दोनों मेरे खिलाफ झूठी शिकायत कर रहे हैं'

खबर है कि आवेदक थाना प्रभारी राम शर्मा का ट्रांसफर कर जामनेर थाना का प्रभारी बना दिया गया है। वहीं चांचौड़ा थाने का कार्यभार टीआई एसएस यादव संभालेंगे।

आपको बता दें लक्ष्मण सिंह गुना जिले के चाचौड़ा विधानसभा क्षेत्र के विधायक हैं। वे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई है। विधायक लक्ष्मण सिंह अपने ही सरकार पर सवाल उठाने के लिए प्रसिद्ध हैं। हाल ही में उन्होंने कमलनाथ को मजबूर मुख्यमंत्री बताया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।