Raj Express
www.rajexpress.co
ओंकारेश्वर बांध के 18 गेट खोले
ओंकारेश्वर बांध के 18 गेट खोले |Social media
मध्य प्रदेश

ओंकारेश्वर बांध के 18 गेट खोले जाने के बाद जारी किया हाई अलर्ट

खंडवा, मध्यप्रदेश : प्रदेश में हो रही लगातार भारी बारिश के चलते बांध के जलस्तर में वृद्धि हो रही है जिसके चलते बरगी इंदिरा सागर ओमकारेश्वर बांध के गेट खोले गए हैं।

Gaurav Jain

राज एक्सप्रेस। प्रदेश में हो रही लगातार भारी बारिश के चलते बांध के जलस्तर में वृद्धि हो रही है जिसके चलते बरगी इंदिरा सागर ओंकारेश्वर बांध के 18 गेट खोले गए हैं। ओंकारेश्वर बांध से अट्ठारह गेट खोल कर लगभग 15600 क्यूमेक्स पानी छोड़ा गया है, जिसके चलते नर्मदा नदी में जलस्तर में तेजी से वृद्धि हुई है। निचले एरिया में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। तीर्थ नगरी ओम्कारेश्वर घाट जलमग्न हो गए हैं।

श्रद्धालुओं के स्नान पर प्रतिबंध लगा दिया :

यह मामला खंडवा जिले के ओंकारेश्वर का हैं जहां श्रद्धालुओं के स्नान करने पर प्रतिबंधित कर दिया गया है। इसके अलावा नाविकों को प्रतिबंधित कर दिया गया है। आसपास बने मठ मंदिर आश्रम, मकान, दुकान सहित अन्य संस्थानों को खाली किया जा रहा है। नर्मदा किनारे बने मकानों एवं अन्य संस्थानों की बिजली काट दी गई है। लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा रहा है। निचले स्थानों पर घाट पर पुलिस प्रशासन की टीम लगा दी गई है।

घाट के आसपास बने संस्थानों को खाली कराया गया :

इस सीजन में कई बार बांध के गेट खोले गए हैं लेकिन भारी बारिश के चलते नर्मदा के जल स्तर में हो रही वृद्धि के चलते ऐसा पहली बार किया जा रहा है कि, घाट के आसपास बने संस्थानों को खाली कराया जा रहा है, बिजली काट दी गई है, लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है एवं खंडवा,खरगोन,बड़वानी सहित कई जिले हाई अलर्ट पर रखे गए हैं।

एहतियातन कदम :

पुलिस प्रशासन पूरी तरीके से मुस्तैद है एवं एहतियातन कई कदम उठा रहा है। बरगी बांध के 21 गेट खोले जाने के पश्चात देर रात पानी ओंकारेश्वर बांध तक पहुंच सकता है जिसके चलते पुलिस प्रशासन पूर्ण तरीके से मुस्तैद है और किसी भी तरह की कोई हानि ना हो उसको लेकर इस समय युद्ध स्तर पर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने सहित अन्य एहतियातन कदम उठाने में लगा हुआ है ।