कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही

सिंगरौली, मध्य प्रदेश : सितम्बर माह में ही संक्रमण का ग्रोथ रेट काफी बढ़ा है। लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला कलेक्टर के द्वारा आए दिन स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया जा रहा है।
कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही
कलेक्टर ने दिए निर्देशShashikant Kushwaha

ंसिंगरौली, मध्य प्रदेश। सिंगरौली जिले में लगातार कोरोना का कहर जारी है आज रीवा मेडिकल कॉलेज से प्राप्त रिपोर्ट के बाद जिले में अब तक कुल 816 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं वहीं कोरोना महामारी से मारने वालों की संख्या 16 है तो वहीं संक्रमण से ठीक होने वाले व्यक्तियों की संख्या 611 है। अकेले सितम्बर माह में ही संक्रमण का ग्रोथ रेट काफी बढ़ा है। तो वहीं लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला कलेक्टर के द्वारा आए दिन स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया जा रहा है।

होम आइसोलेशन वाले मरीजों की उचित देखभाल की जाए :

कलेक्टर राजीव रंजन मीना ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि लंक्षण रहित कोरोना के पाजीटिव मरीजों को जो होम आईसोलेशन में हैं उनकी उचित देखभाल की जाये तथा समय0समय पर उनके स्वास्थ्य की वीडियो कालिंग द्वारा कोविड कमांड सेटर से जानकारी ली जाये। उन्हें आवश्यकता अनुसार मेडिकल किट भी उपलब्ध कराई जायें इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये। अति आवश्यक परिस्थितियो में गंभीर होम आईसोलेट कोरोना पाजीटिव मरीजो को आवश्यकता पड़ने पर एम्बुलेश की सुविधा प्रदान करते हुये उन्हे कोविड सेटर में भर्ती कराया जाये।

होम आइसोलेशन वाले मरीजों की सुध नहीं ले रहा प्रशासन :

एक तरफ जिले में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों ने जिला प्रशासन की मुश्किलें बढ़ा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ कलेक्टर का फरमान भी बेअसर दिखता नजर आ रहा है हम बात कर रहे हैं होम आइसोलेशन वाले मरीजों की जहां पर होम आइसोलेशन पर गए कोरोना पॉजिटिव मरीज का हाल जानने के लिए कोविड कमांड सेंटर के स्थापना की गई बावजूद इसके मरीजों का हाल भी नहीं पूछा जा रहा।

फीवर क्लीनिक का निरीक्षण कर जानकारी प्राप्त करें- कलेक्टर

कलेक्टर ने निर्देश दिया कि मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सभी फीवर क्लीनिकों में भी जॉच से संबंधित समस्त व्यवस्थाओं का समय-समय पर निरीक्षण कर जानकारी प्राप्त करे एवं जन मानस में इस आशय की जागरूकता लाई जाये कि सर्दी, जुखाम, खासी बुखार होने पर अपने नजदीकी फीवर क्लीनिकों में जा कर अपनी जॉच करायें। कलेक्टर ने कहा कि होम क्वारेनटाईन मरीजों की देखभाल एवं सुरंक्षा हम सब की जिम्मेदारी है और हमें सतत उनके स्वास्थ्य की निगरानी रखनी है।

फीवर क्लीनिक, सिंगरौली
फीवर क्लीनिक, सिंगरौलीShashikant Kushwaha

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co