महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती पर उन्हें देशद्रोही जताने की कोशिश
अराजक तत्व की शर्मनाक हरकत, महात्मा गाँधी के फोटो पर देशद्रोही लिखकर फरार आरोपी। Social Media

महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती पर उन्हें देशद्रोही जताने की कोशिश

मध्यप्रदेश में महात्मा गाँधी को द्रेशद्रोही जताने की यह पहली घटना नहीं है। भोपाल की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर, महात्मा गाँधी की हत्या पर नाथूराम गोडसे का समर्थन कर चुकी हैं।

राज एक्सप्रेस। देश की आजादी के लिए अपना सर्वस्व निछावर करने वाले महात्मा गाँधी के साथ यह कैसा न्याय है? जहाँ पूरा देश महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती पर उन्हें भव्य तरीके से श्रृद्धांजलि दी जा रही थी, तो वहीं कुछ अराजक तत्व उनके प्रतिमा पर राष्ट्रदोही लिखकर अवहेलना कर रहे थे।

यह शर्मनाक हादसा मध्यप्रदेश के रीवा जिले से सामने आया है। जिले के बापू भवन संग्राहलय के संरक्षक मंगलदीप तिवारी ने बताया कि 'गाँधी जयंती की सुबह कार्यक्रम शुरू होने से पहले मैं संग्रहालय का गेट खोलके आया था। कार्यक्रम खत्म होने के बाद, मैं दोबारा संग्रहालय लौटा तो मैंने देखा कि गाँधी जी की अस्थियाँ उनकी जगह से गायब थीं और साथ ही संग्रहालय में लगे उनके पोस्टर पर अपशब्द लिखे थे।

जिले के कांग्रेस नेता प्रमुख गुरमीत सिंह द्वारा मामले की शिकायत दर्ज कराने के बाद पुलिस उन अज्ञात आरोपियों की खोज में जुटी है। गुरमीत सिंह ने दोबारा इस तरह की शर्मनाक घटना न हो इसलिए स्थानीय पुलिस से संग्रहालय में सीसीटीवी कैमरा लगाने की सिफारिश की है।

वैसे मध्यप्रदेश में महात्मा गाँधी को द्रेशद्रोही जताने की यह पहली घटना नहीं है। भोपाल की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर, महात्मा गाँधी की हत्या पर नाथूराम गोडसे का समर्थन कर चुकी हैं।

आपको बता दें कि सन् 1948 में राष्ट्रीय पिता महात्मा गाँधी की मौत के बाद से उनकी अस्थियाँ को रीवा के बापू संग्रहालय में रखा गया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co